Cricket Crime Education Entertainment Health International Maharashtra National Politics Social States Uncategorized

एनआईए(NIA) को सचिन वाजे के दफ्तर से मिली ख़ुफ़िया डायरी, वसूली रैकेट का पूरा हिसाब-किताब है दर्ज

एनआईए(NIA) को सचिन वाजे के दफ्तर से मिली ख़ुफ़िया डायरी, वसूली रैकेट का पूरा हिसाब-किताब है दर्ज

क्रिमिनल लोगो से वाज़े करते थे हफ्ता वसूली।
मुंबई के कुछ वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक भी अवैध धंधे वालो से पैसे लेकर दे रहे अवैध धंधों को संरक्षण।

मुंबई:-मनोज दुबे(क्राइम रिपोर्टर)

एनआईए (NIA) को सचिन वाजे के CIU दफ्तर की तलाशी के दौरान 200 पेज की एक डायरी मिली है।
सुत्रोंके मुताबिक इस डायरी में हफ्ता वसूली की सारी जानकारी लिखी हुई है कि बार,पब,हुक्के पार्लर सभी से कितने पैसे लिये जाते है।
NIA को शक है कि कोडवर्ड में जो नाम और रकम लिखी हुई है वो बार, पब और कुछ कारोबारियों से वसूले गए थे।
इस डायरी में जो जानकारी लिखी हुई हैं वो जानकारी जनवरी से अभी तक की है। इस तरह के वसूली रैकेट का जिक्र मुंबई के पूर्व कमिश्नर परमबीर सिंह ने भी अपने लेटर में किया है।
इस डायरी में होटल,पब,बार,जुगार,मटका इनके साथ और अवैध कारोबारियों के नाम के लिखे गए है नाम के आगे रेटकार्ड भी लिखा गया है।जांच में खुलासा हुआ है कि वाजे खुद वसूली नहीं करता था उसके नाम पर इसके कुछ करीबी क्रिमिनल उगाही कर रकम आगे इसे पहुंचाते थे।
इसके अलावा मुंबई, ठाणे के सभी पब, बार, बुकी और होटल्स की जानकारी भी लिखी हुई है।NIA को उम्मीद है कि इस डायरी से और भी कई मामले सामने आ सकते हैं. सचिन वाजे ने डायरी में किसको कितना पैसा जाना है इसका भी हिसाब लिखा हुआ है। लाख के लिए L और हजार के लिए K शब्द का प्रयोग किया गया है।
जांच में जब्त हुईं गाड़िया, पैसे गिनने की मशीन और कई डायरियों पर ED भी नजर रखे हुए है। इसलिए आने वाले समय में इस मामले में ED की भी एंट्री होने की अंदेशा है।
सचिन वाज़े के अलावा भी मुंबई में कुछ वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक भी ऐसे है जो गैरकानूनी धंधे करने वालो लोगो से पैसे लेकर उनको संरक्षण देने का काम कर रहे है कई इलको में हफ्ता वसूली की वजह से देर रात डांस बार,पब,हुक्का पार्लर चलाये जा रहे है।कई जगहों पे तो गलत धंधों की शिकायत करने वालो पे ही पुलिसने फ़र्ज़ी केस बना दीया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *