Crime Maharashtra National

क़ुर्ला एल वार्ड में अवैध कामर्सियल इमारत बनाने वाले लाखो में बोली लगाने वाले भू माफ़ियायो का है बोल बाला ।

क़ुर्ला एल वार्ड में अवैध कामर्सियल इमारत बनाने वाले लाखो में बोली लगाने वाले भू माफ़ियायो का है बोल बाला ।

संपादक मोहम्मद सईद शेख की रिपोर्ट

(*वार्ड ऑफिसर मनीष वलुंज ,गुंडे ठेकेदारों के सामने टेक चुके है घुटने क्या? मुम्बई पोलीस आयुक्त परमवीर की तरह यह भी अपने आका को वसूली का देते है करोड़ो का हप्ता।*) साकीनाका क़ुर्ला यल वार्ड के अंतर्गत वार्ड क्रमांक 158 में खुले आम 4500 sqr फुट का अवैध धोका दायक बेवसायिक इमारत का निर्माण धड़ल्ले से किया जा रहा है। जिसकी जानकारी और मिली भगत इमारत विभाग के अभियंता और मुकादम है। सोचने की बात है जांहा पूरा देश मे करोना महामारी का हाहाः कार मचा है वंही भू माफिया, छोटे अंडरवर्ड डॉन अपराधी अपने करोड़ो के काले धन को ठिकाने लगाने के लिए अचल सम्पत्तिय रियल स्टेट में अवैध बेवसायिक कामर्सियल इमारते बनाकर इन्वेस्ट कर रहे है। सोचने की बात है कि इकोनॉमिक डिपार्टमेंट,NIA को खैरानी रोड साकीनाका में हो रहे अरबो के इन्वेस्ट में कई खबर तक नही है। आप फोटो में देख सकते है कि किस तरह यल वार्ड 158,159,156,162 में धड़ल्ले से मुंब्रा जैसा धोकादायक निर्माण कोविड19 को मात देते हुए जोरो में चल रहा है। ऐसे में आम जनता की हालत ईमानदारी की वजह से बेहद गम्भीर है लेकिन कोविड19 की लॉटरी में आपराधिक माफ़ियायो का अवैध निर्माण और काले धन को ठिकाने लगाने में लॉटरी लगी हुई है। खैरानी रोड दुर्गा मंदिर के पास तल मंजिल+2 का बन रहा धोका दायक4500sqr फुट ऊंचाई 36 फुट की अवैध इमारत महानगर पालिका मुम्बई के नियमो को खुला ठेंगा दिखता है। ऐसे में अगर वार्ड अफसर मनीष वलुंज ऐसे ही कई बन रहे निर्माण पर तोड़क करवाही करते हुए पुलिस में मुकदमा ठेकेदार और इमारत मालिक पर नही करेंगे तो वह भी जनता के बीच मुम्बई पोलीस आयुक्त परमबीर सिंह के आरोपो के तहत के नजरिये से देखे जाएंगे। क्योंकि 4करोड़ की कीमत का यह कामर्सियल इमारत मनपा के सिस्टम को ठेंगा दिखता है।जो फर्जी स्टे बनाकर ऐसे ही कई इमारते से करोड़ पति बने है। यह अवैध धोकादायक इमारत साकीनाका पोलीस थाने के महज 300मीटर पर बन रहा है। इस निर्माण को देखकर समझ मे आता है कि मनपा और सरकारी बाबूओं का गठजोड़ गाला मालिक और ठीकेदार से है।

आज महाराष्ट्र प्रदेश खासकर मुम्बई अपने कानून बेवस्था के कड़े फैसले के लिए जानी जाती है लेकिन कोविड19 में जिस तरह यल वार्ड क़ुर्ला पश्चिम में अवैध 30फुट 40 फुट ऊंचाई वाले इमारतों का अंबार लगा है उससे साफ जाहिर है कि क़ुर्ला एल वार्ड के इमारत विभाग कितना भ्रस्ट है। देखना यह है कि मनपा आयुक्त इकबाल सिंह चहल अपने विभाग की वसूली कांड को बचाने के लिए क्या? तस्वीर में दिख रहे है। वंही बेवसायिक इमारतो पर mr&tp केतहत तोड़क करवाही करते हुए जमीन दोज करके मटेरियल को जप्त करते हुए सभी संबधित लोगो पर मुकदमा दर्ज कर गिरफ्तार कराएंगे। prss news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *