Crime National

कोरोना से महाराष्ट्र का हाल बेहाल; 297 लोगों की गई जान, 55 हजार से ज्यादा नए केस

महाराष्ट्र में कोरोना वायरस का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। पिछले कुछ दिनों के भीतर वीकेंड लॉकडाउन, नाइट कर्फ्यू समेत कई अहम पाबंदियों को लगाए जाने के बावजूद भी राज्य में कोरोना के नए मामलों की गति में कोई कमी नहीं आ रही है। राज्य में एक बार फिर से 55 हजार से ज्यादा नए मामले सामने आए हैं।

राज्य के स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के अनुसार, महाराष्ट्र में पिछले 24 घंटे में 55,469 नए कोरोना के मामले मिले हैं। इसके साथ ही 297 और लोगों की जान चली गई है, जबकि इसी दौरान 34,256 लोग ठीक हो गए हैं।

महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई में पिछले 24 घंटे में 10,030 नए मामले मिले हैं, जबकि 31 लोगों की जान चली गई। शहर में कुल संक्रमितों का आंकड़ा बढ़कर 4,72,332 हो गया है। वहीं, मुंबई में कोविड-19 के मामलों के तेज गति से बढ़ने के मद्देनजर बीएमसी ने पांच से अधिक संक्रमित मरीजों वाले किसी भी हाउसिंग सोसाइटी को सील करने का फैसला किया है। बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) सोमवार को कुछ नई मानक संचालन प्रक्रिया (एसओपी) जारी की।

इसके अलावा, मुंबई में 30 अप्रैल तक सभी बीच (समुद्र तट) को भी बंद रखने का फैसला लिया गया है। बीएमसी आयुक्त इकबाल सिंह चहल ने इस बारे में आदेश जारी कर सभी निगम आयुक्तों को यह सुनिश्चित करने का निर्देश दिया कि सभी बीच इस महीने बंद रखे जाएं।

महाराष्ट्र सरकार ने कोविड-19 के मामले बढ़ने के मद्देनजर रविवार को नई पाबंदियों की घोषणा करते हुए कहा था कि सभी बीच, बगीचे और सार्वजनिक स्थल सप्ताह के शुरुआती पांच दिन रात आठ बजे से सुबह सात बजे तक और शुक्रवार रात आठ बजे से लेकर सोमवार सुबह सात बजे तक बंद रहेंगे। वहीं, राज्य में वीकेंड लॉकडाउन और नाइट कर्फ्यू भी लगाने का फैसला लिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *