Crime Entertainment Maharashtra National

समीर वानखेड़े और एनसीबी टीम की जासूसी करवा रही थी महिला ड्रग्स क्वीन इकरा कुरेशी जांच में हुवा खुलासा ड्रग्स सप्लाई के लिए इंस्टाग्राम के प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करती थी इकरा।

समीर वानखेड़े और एनसीबी टीम की जासूसी करवा रही थी महिला ड्रग्स क्वीन इकरा कुरेशी जांच में हुवा खुलासा
ड्रग्स सप्लाई के लिए इंस्टाग्राम के प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करती थी इकरा।

मुंबई:-मनोज दुबे(क्राइम रिपोर्टर)

एनसीबी ने बीते बुधवार को इकरा नाम की 21 वर्षीय लड़कीं को ड्रग्स तस्करी मामले में गिरफ्तार किया है।जिसे कोर्ट ने 5 दिन की एनसीबी कस्टडी में भेज दिया है।  इकरा को ड्रग्स क्वीन नाम से पहचाना जाता है इकरा बड़े पैमाने पर बार,पब,डिस्को में महिलाओं की टीम बनाकर ड्रग्स तस्करी करने का काम करती है।एनसीबी की जांच में कई चौका देने वाली बातें सामने आई है बताया जा रहा है कि जिस तरह पोलिस अपराधियों की जानकारी प्राप्त करने के लिए उनपे नज़र रखती है।उसी तरह इकरा भी एनसीबी पर नजर जमाये हुई थी।


एनसीबी को जांच में पता चला कि इकरा अपने गैंग के लोगों को समीर वानखेड़े पर नजर रखने बोलती थी ताकि अपने धंधे को सही सलामत रख सके और उसके धंधे पे कभी एनसीबी की रेड ना गिरे।
इतना ही नही इकरा हर उस शख्स पर भी नजर रखती थी जो पुलिस या फिर एनसीबी के लिए मुखबिर का काम करता था और इकरा से जुड़ी कोई जानकारी पुलिस को देता था।ऐसे लोगो का पता चलने पर उस खबरी को फोन पर धमकी भी देती थी।
जिस तरह ड्रग पेडलर्स को पकड़ने के लिए पुलिस उनकी जासूसी करती है अपने लोगों को उनके बीच या उनके इलाके में भेस बदलकर घूमने कहती है पर यहां पर कुछ उल्टा ही देखने मिला।एनसीबी के अधिकारी ने बताया कि इकरा खुद भी और उसके लोगों को एनसीबी के ऑफिस में काम करने वाले इंटेलिजेंस ऑफिसर और खुद समीर वानखेड़े पर नजर रखने बोलती थी और एनसीबी के ऑफिस के आसपास अपने लोगों को भेस बदलकर घूमने भी कहती थी।ताकि एनसीबी की सारी हलचल की मालूमात उसको होती रहे।
इकरा उसके लोगों ने यह तक पूरा पता लगा लिया था कि समीर वानखेड़े किस दिन कितने बजे ऑफिस आते है और कितने बजे ऑफिस से निकले और कब अपनी टीम के साथ कहां रेड मारने जाने वाले है। एनसीबी को जब इस बात का शक हुआ तो अपने ही ऑफिस के आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज की जांच की गई तो पाया गया कि ये लोग तो एनसीबी पर ही नजर जमाये हुए है।
इकरा का नेटवर्क सीएसटी, चर्चगेट से लेकर और बांद्रा तक फैला हुआ है।एनसीबी के एक बड़े अधिकारी ने बताया कि इकरा ने ऐसे पहले भी दो से तीन खबरियों की अपने गैंग के लोगों से जमकर पिटाई भी करवाई है।ताकि उसके नाम का ख़ौफ़ रहे और पुलिस को कोई इसके बारे में जानकारी ना दे। समीर वानखेड़े ने अनुसार 6 मार्च को उनकी एक टीम ने डोंगरी इलाके में छापेमारी कर इकरा कुरैशी को गिरफ्तार किया था और उसके घर से 52 ग्राम एमडी ड्रग बरामद कि थी। इकरा के खिलाफ एनसीबी में अभी तक दो मामले दर्ज है और वो दोनों ही मामलों में वांटेड आरोपी थी इसके अलावा उसपे मारपीट जैसे मामलों में भी केस दर्ज है।ड्रग्स तस्करी करने के लिए इकरा
इंस्टाग्राम का इस्तेमाल करती थी।
इकरा ने 5 से 6 महिलाओं को अपनी टीम में शामिल किया था जिनके जरिये वो ड्रग्स सप्लाई करती थी।
एनसीबी को जांच में आगे और भी कई अहम बाते सामने आने की उम्मीद है फिलहाल 5 दिन की एनसीबी हिरासत में रहेगी ड्रग्स क्वीन इकरा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *