Cricket Crime Entertainment Health Politics Uncategorized

दिल्ली में वकीलों के खिलाफ सड़क पर उतरे पुलिसकर्मी, आईपीएस अधिकारियों ने भी दिया समर्थन

दिल्ली में वकीलों के खिलाफ सड़क पर उतरे पुलिसकर्मी, आईपीएस अधिकारियों ने भी दिया समर्थन

मुंबई – इंद्रदेव पांडे

नई दिल्ली. तीस हजारी कोर्ट परिसर में वकीलों और पुलिसकर्मियों के बीच हिंसा और वकीलों द्वारा पुलिसकर्मियों को निशाना बनाए जाने के विरोध में आज दिल्ली पुलिस के जवान सड़क पर उतर आए हैं. वे आईटीओ स्थित पुलिस मुख्यालय पर प्रदर्शन कर रहे हैं. यहां आईटीओ वाली सड़क को ब्लॉक कर दिया गया है और हाथ पर काली पट्टी बांधकर पुलिसकर्मी प्रदर्शन कर रहे हैं. पुलिसवालों की मांग है कि पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक उनसे मिलें और उनके साथ इंसाफ हो. आपको बता दें कि पुलिसकर्मियों पर वकीलों के हमले के कई विडियो सामने आए हैं, जिससे पूरे विभाग में नाराजगी देखी जा रही है.

तीस हजारी कोर्ट से शुरू हुई हिंसा के बाद ऐसे ही मामले विभिन्न कोर्ट से सामने आए. सोमवार को साकेत और कड़कड़डूमा कोर्ट में पुलिसवालों को पीटने की विभिन्न घटनाएं हुईं. दिल्ली में तीस हजारी कोर्ट के बाद यूपी में भी वकीलों और पुलिस के बीच टकराव हो गया था. सोमवार को यूपी के कानपुर में वकीलों ने एसएसपी दफ्तर पर पथराव किया और उन्होंने पुलिस की गाड़ी के शीशे तोड़ दिए थे.

पुलिसवाले उनपर हो रहे इन हमलों के खिलाफ यह प्रदर्शन कर रहे हैं. पुलिसवालों की डिमांड है कि उनपर हमले करनेवालों पर ऐक्शन लिया जाए. सड़क ब्लॉक होने के बाद वहां से ट्रैफिक की आवाजाही रोक दी गई है. दिल्ली ट्रैफिक पुलिस ने इसपर ट्वीट किया है. उन्होंने लिखा कि आईटीओ से लक्ष्मी नगर जाने वाली सड़क को फिलहाल बंद कर दिया गया है. लोगों को दिल्ली गेट या राजघाट की तरफ से जाने की सलाह.

कानून की रक्षा करने वाले और कानून को प्रैक्टिस करने वाले आपस में लड़े-भिड़े तो इसकी हर तरफ से निंदा हुई. वहीं, आईपीएस असोसिएशन ने सोमवार को घटना को दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया है. असोसिएशन ने अपील की है कि तथ्य लोगों के सामने है लिहाजा इस पर संतुलित नजरिया अपनाया जाना चाहिए. उन्होंने साथ ही कहा कि पूरे देश की पुलिस, उन सभी पुलिसकर्मियों के साथ खड़ी है जिनपर हमला हुआ है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *