Cricket Crime Entertainment Health Politics Uncategorized

मुर्गी के पर से खुला हत्या का राज तो तावीज से हुई मूर्तक महिला की शिनाख्त

मुर्गी के पर से खुला हत्या का राज तो तावीज से हुई मूर्तक महिला की शिनाख्त

इंद्रदेव पांडे

महाराष्ट्र के ठाणे ग्रामीण क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले खडावली राया कल्याण क्षेत्र में ३० वर्षीय महिला की लाश मिलने से सनसनी फैल गई थी. जिसके बाद पुलिस को इस मामले की सूचना मिलने पर ठाणे ग्रामीण पुलिस के अधिकारी और क्राइम ब्रांच मौके पर पहुँचे लाश को पोस्टमार्टम के भेज दिया गया था.

काफी मशक्कत के बाद ठाणे ग्रामीण क्षेत्र के काशी मीरा क्राइम ब्रांच के अधिकारियों को गुप्त सूचना मिलने पर एक टीम बंगाल के लिए रवाना हुई और वहा से जाने आलम हिरासत में लिया

और पूछताछ शुरू किया पूछताछ में जाने आलम जो कि पेशे से मुर्गी बेचने का काम करता था. पूछताछ में जाने आलम ने अपना गुनाह कबूल कर लिया और क्राइम ब्रांच के अधिकारियों को सफलता प्राप्त हुई.

Fight Against Criminal के पत्रकार को मामले की जानकारी देते हुए ठाणे ग्रामीण क्षेत्र के काशी मीरा क्राइम ब्रांच यूनिट के सहायक पुलिस निरक्षक प्रमोद बडाख ने कहा कि दिनाक २३ जून के सुबह के वक़्त कल्याण के खडावली राया क्षेत्र में एक अज्ञात महिला की अर्धजली लाश मिली थी. जिसके बाद पुलिस ने हत्या का मामला दर्ज कर छानबीन में जुट गई थी. पुलिस की छानबीन में महिला के कपड़ों पर मुर्गियों के पर मिले और महिला के कमर पर तावीज बंधी हुई थी.
पुलिस ने तावीज को खोलकर देखा तो कागज़ पर बंगाली में तांत्रिक क्रियाओं वाला कागज़ मिला जिससे महिला की शिनाख्त हुई और बंगाल के निवासी हैं. मुखबिरों की सुचना पर पुलिस ने जाने आलम को बंगाल से गिरफ्तार किया और पुलिस की पूछताछ में जाने आलम ने कहा कि पहले वह शादीशुदा था और जाने आलम की मुलाकात मूर्तक महिला मोनी से हुई थी. जो कि बंगाल की निवासी थी. जाने आलम ने महिला से अवैध संबंध रखा था और ठाणे ग्रामीण क्षेत्र के खडावली के राया क्षेत्र में एक घर किराए पर लेकर दिया था. जिसके बाद जाने आलम रोज रात को घर आकर मोनी से अवैध संबंध बनाना था. और मोनी के हर महीने खर्चा भी देता था. लेकिन जरूरत से ज्यादा मोनी के खर्चे बढ़ने लगे.और मोनी आलम को पैसो का डिमांड करने लगी जिससे मानसिक तनाव में आकर जाने आलम और उसके साथी मोनुरूदीन ने २२ जून की रात के मोनी को उसके घर जाकर मौत के घाट उतार दिया और लाश को गोनी में डालकर राया में ले जाकर लाश पर पेट्रोल डालकर लाश को जला दिया और मौके से फरार हो गए थे. पुलिस ने हत्या के मुख्य आरोपी जाने आलम को हत्या करने सबूत मिटाने के मामले में उसके और उसके साथी मोनुरूदीन के ऊपर भारतीय दंड कानून सहित आईपीसी की धारा ३०२, (हत्या) २०१ (सबूत मिटाने का) के मामले में गिरफ्तार कर लिया है. वही इस मामले दूसरा आरोपी फरार चल रहा है. आगे की मामले की जाँच ठाणे ग्रामीण क्षेत्र के काशी मीरा क्राइम ब्रांच के अधिकारी कर रहे हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *