Crime Entertainment Health Politics Uncategorized

अफवाह फैलाने वाले लोगों की अब खैर नहीं मुंबई पुलिस की साइबर सेल ने किया अब तक 132 मामले दर्ज

अफवाह फैलाने वाले लोगों की अब खैर नहीं मुंबई पुलिस की साइबर सेल ने किया अब तक 132 मामले दर्ज

मुंबई – इंद्रदेव पांडे

कोरोना को लेकर रोज नए नए अफवाह सोशल मीडिया के माध्यम से फैलाए जा रहे है सर्वाधिक अफवाह सोशल मीडिया के माध्यम से फैलाए जा रहे है | इसको देखते हुए महाराष्ट्र साइबर सेल अब इस तरह के व्हाट्सएप्प पर नजर रख रही है |

इन व्हाट्सएप्प ग्रुप के एडमिन पर कठोर कार्रवाई करने की चेतावनी राज्य साइबर सेल के पुलिस उपमहानिरीक्षक हरीश बैजल ने दिया है इसके लिए ग्रुप एडमिन व्हाट्सएप्प के ग्रुप सेंटिग में जाकर सिर्फ आप सेटिंग कर सकते है इस तरह का सेटिंग करने का आवाहन किया है |

राज्य भर में सोशल मीडिया के माध्यम से अफवाह फ़ैलाने वालो के खिलाफ साइबर पुलिस ने कार्रवाई करना शुरू कर दिया है |साइबर पुलिस टिक टोक ,फेसबुक ,ट्विट्टर और अन्य सोशल मीडिया के माध्यम से अफवाह फ़ैलाने वालो पर बारीकी से नजर रख रही है | राज्य भर में इस तरह से अफवाह फैलाने के 132 मामले में बुधवार तक दर्ज हुए थे | पिछले तिन दिनों में राज्य के अलग अलग साइबर पुलिस स्टेशनों में 19 मामले दर्ज किए गए है | जिसमे बीड 16 , कोल्हापुर 13 , पुणे 11 , मुंबई 9 , जालना 8 ,सातारा 7 , जलगांव 7 , नासिक ग्रामीण 6 , नागपुर शहर 4 , नासिक शहर 5 , ठाणे शहर 4 , नांदेड 4 , गोंदिया 3 ,भंडारा 3 , रत्नागिरी 3 ,परभणी 2 , अमरावती 2 , नंदुरबार 2 ,लातूर 1 ,उस्मानाबाद 1 , हिंगोली 1 का समावेश है | इन सबमे सर्वाधिक व्हाट्सएप्प पर मैसेज फॉरवर्ड किए जाने के 79 मामलों का समावेश है | इसी तरह फेसबुक पर पोस्ट शेयर किए जाने के 24 मामले तो टिक टोक के वीडियो शेयर किए जाने के 3 मामलों का समावेश है |

इन सब मामलो में 35 आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चूका है जब की फरार आरोपियों की तलाश जारी है राज्य साइबर सेल के पुलिस उप महानिरीक्षक हरीश बैजल ने बताया है कि अभी तक के कार्रवाई में ग्रुप में फैलाए गए अफवाह मामले में ग्रुप एडमिन को कार्रवाई का सामना करना पड़ रहा है | इसके लिए व्हाट्सएप्प ग्रुप के सेटिंग में जाकर सिर्फ ग्रुप एडमिन मैसेज कर सके उसके सेट करे | इससे अफवाह फ़ैलाने वालो से बचने के साथ ही कार्रवाई से भी बच सकते है | इसके साथ ही आवाहन किया गया कि किसी भी तरह के ऑनलाइन खरीदारी करने से पहले सावधानी बरते | इसके साथ ही ओटीपी के माध्यम से ठगी किया जा रहा है उससे बचने की कोशिस करे | अगर इस तरह से ऑनलाइन ठगी का शिकार हो रहे है तो तुरंत बैंक से संपर्क करने के साथ ही पास के पुलिस स्टेशन में शिकायत दर्ज करे | इसके साथ ही इस साइबर क्राइम की जानकारी www.cybercrime.gov.in इस वेब साईट पर दे |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *