Health Uncategorized

अब्दुर्रहमान ने हज के पैसे, भूखे मजदुरो को खाना खिलाने पे खर्च कर दिया

अब्दुर्रहमान ने हज के पैसे, भूखे मजदुरो को खाना खिलाने पे खर्च कर दिया


(लियाकत शाह)
करोना वायरस के चलते देशव्यापी लॉकडाउन के दौरान एक मजदूर के दूसरे मजदूरों के काम काम आने की एक मिसाल सोशल मीडिया में वायरल हो रही है। कर्नाटक में अब्दुर्रहमान ने दिनरात मजदूरी करके हज यात्रा के लिए पैसे जमा किए थे,

लेकिन उन्होंने इस रकम को लॉकडाउन के वजाह से फंसे मजदूरों का पेट भरने पर खर्च कर दिया। मंगलौर जिले के बंतवाल निवासी ५५ वर्षीय अब्दुर्रहमान की एक ही तमन्ना थी मक्का-मदीना की हज यात्रा। इसके लिए उन्होंने पैसा भी जमा कर लिया था कि अचानक करोना वायरस कि महामारी के कारण लॉकडाउन का दौर शुरू हो गया। सभी कामगार घर बैठने को मजबूर हो गए।

ऐसे में अब्दुर्रहमान ने अपना सारा पैसा यात्रा करने की जगह लोगों का पेट भरने पर खर्च कर दिया। ३ मई तक लॉकडाउन लागू मालूम हो कि देश में कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए तीन मई तक लॉकडाउन लागू है। यह लॉकडाउन का दूसरा चरण है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *