Crime Entertainment Health Politics

‘अम्फान’ के ‘महाचक्रवात’ में बदलने का गंभीर ख़तरा : उड़ीसा और पश्चिम बंगाल के तटीय क्षेत्रों में भारी तबाही की आशंका

‘अम्फान’ के ‘महाचक्रवात’ में बदलने का गंभीर ख़तरा : उड़ीसा और पश्चिम बंगाल के तटीय क्षेत्रों में भारी तबाही की आशंका

विक्रम सेन
नई दिल्ली : कोरोनावायरस से जूझ रहे भारत के सामने चक्रवात अम्फान की वजह से चुनौतीपूर्ण स्थिति पैदा हो गई है।

विस्तृत जानकारी अनुसार बंगाल की खाड़ी में उठा चक्रवात ‘अम्फान’ अब सुपर साइक्लोन में बदल चुका है और तेज रफ्तार से पश्चिम बंगाल और ओडिशा की तरफ बढ़ रहा है। इसके बुधवार को तट से टकराने का अनुमान है। इस तूफान के कारण इन दो राज्यों में भारी तबाही की आशंका है। ऐसे में चक्रवात ‘अम्फान’ से निपटने की तैयारियों को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज एक उच्च स्तरीय बैठक की।

बैठक के बाद मोदी ने ट्वीट किया, ‘चक्रवात ‘अम्फान’ के कारण पैदा हुए हालात से निपटने की तैयारियों की समीक्षा की। इस दौरान इससे निपटने के लिए विभिन्न उपायों और लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने की योजना पर भी चर्चा हुई। मैं सबकी सुरक्षा के लिए प्रार्थना करता हूं और केंद्र सरकार की तरफ से हरसंभव मदद का भरोसा देता हूं।’

राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन के प्रमुख एस एन प्रधान ने इसे लेकर चिंता बढ़ाने वाली चेतावनी में बताया कि ‘अम्फान अब सुपर साइक्लोन में बदल चुका है और यह गंभीर मामला है। इससे भारी तबाही आ सकती है।’
उल्लेखनीय हैं कि इससे पहले ओडिशा में 1999 में इतना भयानक तूफान आया था। उन्होंने कहा कि जब 20 मई को अम्फान तट से टकराएगा तो यह बेहद विकराल रूप ले चुका होगा।

मौसम विभाग ने तूफान के कारण समुद्र में 4 से 6 मीटर ऊंची लहरें उठने की चेतावनी दी है। इससे पश्चिम बंगाल के तटीय इलाकों में भारी तबाही मच सकती है। राज्य में पश्चिमी मिदनापुर, दक्षिण और उत्तर 24 परगना, हावड़ा, हुगली और कोलकाता इससे बुरी तरह प्रभावित हो सकते हैं।

मौसम विभाग के मुताबिक ‘अम्फान’ सुपर साइक्लोन में बदल चुका है और यह 20 मई को गंभीर चक्रवाती तूफान के रूप में पश्चिम बंगाल और बांग्लादेश के तट को पार कर सकता है। ओडिशा के गजपति, पुरी, गंजाम, जगतसिंहपुर और केंद्रपाड़ा में भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है। कल बालासोर, भद्रक, जाजपुर, मयूरभंज, खुर्जा और कटक में बारिश में तेजी आ सकती है।

मौसम विभाग ने कहा कि चक्रवात से तटीय ओडिशा और पश्चिम बंगाल में गंगा से लगने वाले क्षेत्र में तेज हवाओं के साथ भारी बारिश होगी। ओडिशा सरकार जहां संवेदनशील इलाकों में रह रहे 11 लाख लोगों को निकालने की तैयारी कर रहा है, वहीं पश्चिम बंगाल सरकार ने तटीय जिलों के लिए अलर्ट जारी किया और राहत टीमें भेजी हैं। तूफान ‘अम्फान’ के खतरे को देखते हुए रेलवे ने भुवनेश्वर से दिल्ली और दिल्ली से भुवनेश्वर रूट पर चलने वाली स्पेशल ट्रेन के रूट में बदलाव किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *