Entertainment Health Politics

गोपालगंज जनसंहार के खिलाफ भाकपा-माले का विरोध प्रदर्शन।

गोपालगंज जनसंहार के खिलाफ भाकपा-माले का विरोध प्रदर्शन।

सामंती-अपराधी पांडेय गिरोह पर लगाम लगाओ, हत्यारों को अविलंब गिरफ्तार करो- सुरेन्द्र।

समस्तीपुर (जकी अहमद)

गोपालंगज जिले के हथुआ प्रखंड के रूपचक गांव में भाजपा-जदयू संरक्षित सवर्ण सामंती-अपराधी पांडेय गिरोह द्वारा जनसंहार रचाने की घटना के खिलाफ भाकपा माले जिला कमिटी सदस्य सुरेन्द्र प्रसाद सिंह ने अपने सिर पर काली पट्टी बांधकर, हाथों में मांगों से संबंधित नारे लिखे कार्डबोर्ड लेकर शहर के विवेक- विहार मुहल्ला स्थित अपने आवास पर धरना दिया.
इस दौरान उन्होंने कहा कि यह बर्बर हमला साबित करता है कि कोरोना व लाॅकडाउन की आड़ में सामंती-अपराधियों का मनोबल एक बार फिर से आसमान छू रहा है और नीतीश सरकार लगाम लगाने की बजाय ऐसी ताकतों को सरंक्षण दे रही है.

उन्होंने कहा कि गोपालगंज की घटना में बाहुबली सतीश पांडे, कुचायकोट से जदयू विधायक अमरेन्द्र पांडेय उर्फ पप्पू पांडे और सतीश पांडे के पुत्र व जिला परिषद के अध्यक्ष मुकेश पांडेय का हाथ बताया जा रहा है. यह बयान खुद हमले में घायल जेपी यादव ने दिया है, जिनके परिवार के तीन सदस्यों की मौत इस बर्बर जनसंहार में हुई है.

माले नेता सुरेन्द्र ने कहा कि जेपी यादव के पिता 68 वर्षीय महेश यादव और मां 65 वर्षीय संकेशिया देवी की मौत घटनास्थल पर ही हो गई, जबकि भाई 32 वर्षीय सोनू यादव ने अस्पताल जे जाते वक्त बीच रास्ते में दम तोड़ दिया. जेपी यादव का इलाज फिलहाल पीएमसीएच में चल रहा है और उनकी भी हालत गंभीर बताई जा रही है. जेपी यादव भाकपा-माले से जुड़े रहे हैं.
उन्होंने कहा है कि तथाकथित सुशासन की सरकार में आज पूरा गोपालगंज अपराधी पांडेय गिरोह के चंगुल में है और इन लोगों को भाजपा-जदयू का खुलेआम समर्थन मिलता है. ये हत्याएं सता सरंक्षित हत्याएं हैं. इस बर्बर जनसंहार के खिलाफ सभी हत्यारों की अविलंब गिरफ्तारी के सवाल पर माले का धरना- प्रदर्शन आहूत है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *