Entertainment Health Politics

हाजी हफीज खान: जब तक लॉक डाउन है, मैं सेवा करता रहूंगा

हाजी हफीज खान: जब तक लॉक डाउन है, मैं सेवा करता रहूंगा

(सोहैल खान)

मुंबई कोरोना वायरस ने देश में कहर बरपा दिया है। वायरस को फैलने से रोकने के लिए सरकार ने २३ मार्च से लॉकडाउन लागू किया है और लॉकडाउन अभी भी जारी है। कोरोना वायरस स्पर्श से फैलता है।

जब लॉक डाउन रहेगा तो वह किसी के संपर्क मैं नही आएगा जिसके कारण वायरस फैलने में सक्षम नहीं होगा।

लॉकडाउन के बाद, रोज़ खाने कमाने वालों के लिए अपने परिवारों को भोजन उपलब्ध कराना मुश्किल हो गया है। वही गोवंडी के लोकप्रिय समाज सेवक हाजी हाफिज खान लॉक डाउन के दूसरे दिन से ही १४ हज़ार लोगों को भोजन बाटना जारी किये और दो हजार से अधिक घरों में राशन वितरित किया गया है।

राशन में चावल, आटा, दो प्रकार की दाल, चीनी, चाय की पत्ती, नमक, तेल वही प्रक्रिया अब भी चल रही है।ज़रूरत मंद लोगों ईद के दिन अपने घरों में शिर खोरमा बना सके इस के लिए खान ने कई हज़ार किट बनाईं और ज़रूरतमंदों के घरों में जाकर खुद और उनके साथि इमरान ख़ान अल्ताफ़ हर्बल खाला इमरान मलिक और शफीक इन्ही के द्वारा वितरित।

हाजी हफीज खान के अनुसार, इस लॉकडाउन ने अच्छे लोगों की कमर तोड़ दी है। जब तक लॉक डाउन जारी रहेगा मैं इसी तरह मेरी खिदमत जारी रहेगी खान के अनुसार, शिर खुरमा ईद के दिन जरूरतमंदों के घर बन सके जिस लिए हमने किट तैयार किया था इस शिर खुरमे की किट मैं घी, चीनी, काजू,बादाम, सूखे खोपरा और टोस का एक पैकेट था,

जिसे मैंने और मेरी टीम ने डोर-टू-डोर जाकर वितरित किया जो इस मुश्किल समय में जरूरतमंदों की जरूरतों को पूरा करते थे और उन पत्रकारों को भी धन्यवाद देता हूं जिन्होंने हर संभव तरीके से कई लोगों की मदद की। और कुछ छूटभैया पत्रकार भी हैं जो किसी की मदद नहीं करते और जो करते हैं। उन का मजाक बनाया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *