Crime Entertainment Health Politics

गोरेगांव पुलिस की नाक के नीचे सक्रिया हुई देह व्यापार चलाने वाली गैंग “” महिलाओं की मदत से साम्राज्य पाने के चक्कर में देते है लोगो की हत्या करने की सुपारी

गोरेगांव पुलिस की नाक के नीचे सक्रिया हुई देह व्यापार चलाने वाली गैंग “” महिलाओं की मदत से साम्राज्य पाने के चक्कर में देते है लोगो की हत्या करने की सुपारी

>> मरते मरते बाल बाल बचे दो युवक पुलिस देखती रही तमाशा

मुंबई – इंद्रदेव पांडेय

मुंबई के गोरेगांव पश्चिम राम मंदिर क्षेत्र के रहने वाले युवक इमरान शेख और बिलाल शेख नामक व्यक्ति पर दो दिन में इस गिरोह के सदस्यों ने करवाया जानलेवा हमला जिसके चलते बाल बाल बच गए दो युवक जो आज इनके हमले के चलते गहरी जख्म से झुलस रहे हैं

वही गोरेगांव पुलिस के अधिकारी पुलिस उप निरक्षक दिलीप ठाकुर से खुला मिल रहा है इस गिरोह के सदस्यों खुला सौरक्षण जिसके चलते आये दिन यह गिरोह और इस गिरोह को चलाने वाले मुख्या सदस्य जो इस गिरोह को घटना को अंजाम देने के पहले करता है फाइनेंस और इस मुख्य गुप्त सदस्य का नाम जहाँगीर जो गोरेगांव पश्चिम राम मंदिर क्षेत्र में चोरी की लाइट और अवैध रूप से चल रहे कामो को अंजाम देता है

वही दूसरी ओर इस गिरोह की सदस्य जो कि एक महिला है जिसका नाम शहनाज़ शेख जो कि पेश से एक गुटखा की तस्करी में लिप्त हैं और आए दिन बेहगुनह लोगो पर फर्जी मामल दर्ज कराने की धमकियां देती रहती हैं और वही दूसरी ओर इस गिरोह का तीसरा सदस्य सरफ़राज़ शेख जो पेश से म्हाडा में घर दिलवाने के नाम पर फर्जी वाडा चलाने के काम करता है

शहनाज़ शेख
शहनाज़ शेख

जिस बात को लेकर गोरेगांव पश्चिम राम मंदिर क्षेत्र के पी ५ नामक इमारत के चैयरमेन इरफान शेख पर कुछ दिन पहले इस गिरोह के लोगो ने जानलेवा हमला कर दिया वही गंभीर रूप से घायल इरफान शेख ने गोरेगांव पुलिस से मदत की गुहार लगाई थी मगर पुलिस पीड़ित इरफान शेख की मदत करने के बजाए अपराधियों को शय देने का काम कर रही थी. गोरेगांव पुलिस ने इरफान शेख का बयान दर्ज करने बाद हमलावर पर धारा ३२४,३२३, और ५०६ के तहत मामला दर्ज ही किया था जिसके ४८ घंटे बाद पीडित पर इस गिरोह के सदस्यों ने पीड़ित इरफान शेख पर चॉपर से हमला करवा दिया

सरफराज शेख
सरफराज शेख

इस हमले में इरफान शेख बुरी तरह जख्मी हुए और उनकी पीठ पर धारधार हत्यार से हमला कर अधमरा कर दिया था हमले में पीड़ित ने मौका देखते ही अपनी जान बचाने के लिए इमारत की छत पर भाग गया और बाल बाल बच गया घटना के बाद पीड़ित इरफान शेख ने घटना के बारे मे अपने परिवार वालो को सूचित किया जिसके बाद गोरेगांव पुलिस स्टेशन में मामल दर्ज कराया गया है

मगर इस मामले में अब तक इस गिरोह के किसी भी सदस्य की कोई गिरफ्तारी नही है आगे की मामले की जाँच गोरेगांव पुलिस स्टेशन के अधिकारी कर रहे हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *