Crime Health Politics

मुंबई पुलिस के क्राइम ब्रांच यूनिट 10 अधिकारियों ने गोदाम में छापेमारी कर अवैध हैंड सेनिटाइजर बनाने वाले गिरोह का पर्दाफाश, दो आरोपी गिरफ्तार

मुंबई पुलिस के क्राइम ब्रांच यूनिट 10 अधिकारियों ने गोदाम में छापेमारी कर अवैध हैंड सेनिटाइजर बनाने वाले गिरोह का पर्दाफाश, दो आरोपी गिरफ्तार

मुंबई – इंद्रदेव पांडेय

मुंबई पुलिस की क्राइम ब्रांच और एफडीए ने संयुक्त रूप से अवैध हैंड सेनिटाइजर एवं डिसइंफेक्टंट स्प्रे बनाने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया है. पुलिस ने बोरिवली के एक गोदाम में छापेमारी की. यहां से 3 लाख 6 हजार 806 रुपए के अवैध हैंड सेनिटाइजर एवं डिसइंफेक्टंट स्प्रे बनाने के लिक्विड एवं समग्री जब्त किया गया है. इन मामलों में 2 लोगों को गिरफ्तार किया है. आरोपी अवैध हैंड सेनिटाइजर एवं डिसइंफेक्टंट स्प्रे बनाकर बेचते थे.

गोदाम पर छापा

क्राइम ब्रांच युनिट-10 के सहायक पुलिस निरीक्षक वाहिद पठान को गुप्त सूचना मिली कि बोरिवली (प.) के एसवीपी रोड स्थित पटेलवाडी के ‘ जैनम इको फ्रेंडली ‘ नामक गोदाम में अवैध रूप से अवैध हैंड सेनिटाइजर एवं डिसइंफेक्टंट स्प्रे बनाकर बेचा जा रहा है. क्राइम ब्रांच ने एफडीए के अधिकारियों को इसकी सूचना दी.

एफडीए के अधिकारी आरवी पोंगले के साथ संयुक्त पुलिस आयुक्त संतोष रस्तोगी और पुलिस उपायुक्त अकबर पठान के मार्गदर्शन में क्राइम ब्रांच युनिट-10 के प्रभारी पुलिस निरीक्षक नामदेव शिंदे, सहायक पुलिस निरीक्षक वाहिद पठान, हणमंत डोपेवाड, धनराज चौधरी, अफरोज शेख, अजीत पाटिल, अविनाश चिवडे, हवलदार दिग्विजय पानसे और हर्षवर्धन मस्के की टीम ने बोरिवली के ‘ जैनम इको फ्रेंडली ‘ नामक गोदाम में छापेमारी की.

3 लाख की समग्री जब्त

यहां से 3 लाख 6 हजार 806 रुपए के अवैध हैंड सेनिटाइजर एवं डिसइंफेक्टंट स्प्रे बनाने के लिक्विड एवं समग्री जब्त किया गया है. पुलिस ने इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार किया है. उनकी पहचान हिमांशू रजनीकांत मेहता और रितेश रमेश जबाबदारी के रूप में हुई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *