Crime

लेडीज बार के बाद अब मुंबई पुलिस के नाक के नीचे चल रहा है मसाज पार्लर की आड़ में देह व्यापार का कारोबार

लेडीज बार के बाद अब मुंबई पुलिस के नाक के नीचे चल रहा है मसाज पार्लर की आड़ में देह व्यापार का कारोबार

मुंबई – इंद्रदेव पांडे

मुंबई पुलिस के अंतर्गत आने वाले क्षेत्र ईस्ट रीजन, वेस्ट रीजन, नार्थ रीजन, साउथ रीजन, और सेंट्रल रीजन, में लेडीज बार के बाद अब मसाज स्पा ट्रीटमेंट के नाम पर जोरो पर चल रहा है देह व्यापार का कारोबार। इसका खुलासा आए दिन चल रही पुलिसिया करवाई में देखने को मिल रही है। पिछले दिनों क्राइम ब्रांच ने कई स्पा ट्रीटमेंट के नाम पर चल रहे देह व्यापार का उजागर कर स्थानीय पुलिस की नींद हराम कर दिया। अब आला अधिकारियों के आदेश पर स्पा पार्लरों पर लगातार करवाई की जा रही हैं। इसके वजूद भी आज भी सैकड़ों स्पा में देह व्यापार चल रही हैं। गोवंडी पुलिस के हद में आने वाले गोवंडी पुलिस थाने के छेत्र में सबसे ज्यादा स्पा,ब्यूटी पार्लर और यूनिसेक्स सैलून है जहाँ पर कानून को ताक पर रख कर मसाज के नाम पर वेश्यावृत्ति का घिनौना धंधा चल रहा है। चेंबूर के मैत्रिक पार्क(आर के स्टूडियो और डुकस कंपनी के सर्कल के पास) इलाके में हाई प्रोफाइल स्पा की भरमार है।


गोवंडी पुलिस थाने के अंतर्गत चल रहे स्पा ट्रीटमेंट के नाम से देहव्यापार

मुंबई परिमंडल छह के आरसीएफ व चेंबूर और गोवंडी पुलिस थाने के छेत्र में सबसे ज्यादा स्पा,ब्यूटी पार्लर और यूनिसेक्स सैलून है जहाँ पर कानून को ताक पर रख कर मसाज के नाम पर वेश्यावृत्ति का घिनौना धंधा चल रहा है। चेंबूर के मैत्रिक पार्क(आर के स्टूडियो और डुकस कंपनी के सर्कल के पास) इलाके में हाई प्रोफाइल स्पा की भरमार है लेकिन पुलिस इन स्पा और यूनिसेक्स सैलून पर करवाई करने के लिए साबुत इकठ्ठा करने के बात करती है और इस धंधे के करोबारिओं का मदद गार सीसीटीवी कैमरा है जिसकी वजह से अपराधी पुलिस की गिरफ्त से दूर है। ऐसा ही एक हाई प्रोफाइल स्पा अतिरिक्त पुलिस आयुक्त (पूर्वी क्षेत्र) के कार्यालय के सामने की इमारत में भी था जो अभी दूसरे छेत्र में चला गया है।
अलग अलग तरीके से ग्राहकों से करते हैं संपर्क

लोकल न्यूज़ पेपर,व्हाट्सएप,फेसबुक, इंस्टाग्राम और मोबाइल फ़ोन के टेक्स मैसेज के माध्यम से करते है ग्राहकों से संपर्क।इनकी सूची में जिस विश्वसनीय ग्राहक का नाम होता है उसको ही अनुमति मिलती है स्पा में आने की या उसके करीबी दोस्त को। स्पा में काम करने वाली महिलाये या लड़कियां भी अपने संपर्क में रहने वाले ग्राहको को आमंत्रित करते है।इस कारोबार में सतर्कता बहुत जरूरी है और एक दूसरे के कारोबार के खिलाफ पुलिस कंट्रोल रूम में फ़ोन और और गुमनाम लिखित शिकायत के माध्यम से स्पा और पार्लर में चेकिंग कराने का काम किया जाता है जिससे उसका धंधा ख़राब हो और ग्राहक दूसरी दुकान में जाये। मसाज के लिए ३,००० से ५,००० रूपए लिए जाते है लेकिन अगर ग्राहक को ज्यादा अच्छी सर्विस चाहिए तो १०,००० तक रकम चुकानी पड़ती है।
पुलिस करवाई से बचने का तरीका देखिए

विश्वसनीय पुलिस सूत्रों की माने तो जिन पार्लर और स्पा में वेश्यावृत्ति का कारोबार चलता है ज्यादातर उनका ठिकाना कमर्शियल बिल्डिंग का पहला और दूसरा मंजिला होता है। इन इमारत के द्वार से लेकर स्पा के अंदर दर्जनों सीसीटीवी कैमरे लगे हुए होते है और गेट पर खड़ा सिक्योरिटी गार्ड भी इनके लिए चौकीदारी करता है।जब पुलिस शिकायत मिलने के बाद पूछताछ और जांच के लिए स्पा और पार्लर में जाती है तो कैमरे की स्क्रीन के सामने बैठा व्यक्ति सबको अलर्ट कर देता है और पुलिस को स्पा के अंदर जाने से पहले काफी सवालो का सामना करना पड़ता है और उसके बाद खाली हाथ ही लौटना पड़ता है। स्पा के अंदर के हर केबिन में साइरेन लगा होता है और लड़किओं को साइरन बजते ही छिपा दिया जाता है जैसे बार में होता है। लेकिन उन केबिन में एकांत और प्राइवेसी का हवाला देकर कैमरे नहीं लगाए जाते है। इन स्पा में विदेशी युवतियों को शामिल किया जाता है जो टुरिस वीसा पर आती है और सालो मसाज के नाम पर चलने वाले वेश्यावृत्ति के कारोबार में लिप्त रहती है।
पूरे मुंबई शहर में चल रहे हैं छापेमारी


कार्यवाही पुलिस के गोरेगांव पुलिस के अंतर्गत आने वाले क्षेत्र में नार्थ रीजन के एडिशनल कॉमिशनर दिलीप सावंत के मार्गदर्शन में डीसीपी जोन परिमंडल ११ मोहन कुमार की टीम ने गोरेगांव पश्चिम एक आएरा मसाज स्पा पार्लर में छापेमारी कर देह व्यापार में लिप्त ८ लड़कियों को हिरासत में लेकर पीटा एक्ट के तहत मामला दर्ज कर पार्लर के मालिक , मैनेजर, और आफिस बॉय के खिलाफ मामला दर्ज किया और ५,८००, नकद राशि, भी जप्त किया है।


मुंबई क्राइम ब्रांच ने शुक्रवार रात में यहां किया था छापेमारी
इससे पहले सैकड़ों स्पा पर मुंबई पुलिस के क्राइम ब्रांच ने छापेमारी कर चुके हैं। क्राइम ब्रांच के छापेमारी के बाद स्थानीय पुलिस की नींद टूटी हैं।
यहां यहां अभी भी स्पा के नाम से होती हैं जिस्म का सौदा
लेडीज बार के बाद अब मुंबई पुलिस के अंतर्गत आने वाले क्षेत्र में मसाज पार्लर की आड़ में देह व्यापार अडा बनता नजर आ रहा है। जोरो में चल रहे देह व्यापार अंधेरी पूर्व के साकीनाका , एमआईडीसी ,पवई प्लाजा , अंधेरी पश्चिम के जुहू, वर्सोवा, बांद्रा, खार, ओशिवारा, लोखंडवाला तो वही दूसरी ओर चेम्बूर, गोवंडी, कुर्ला ,के पुलिस के अंतर्गत आने वाले क्षेत्र में मसाज पार्लर की आड़ में चल रहा है देह व्यापार का कारोबार जिसमें डिवीज़न पुलिस को मोटी रकम हर महीने देने की तय कर कारोबार चलाने का आदेश दिया करते हैं।
पूरे मुंबई में मसाज पार्लर की आड़ में देह व्यापार चलाने वाले लोगों के बार में जब फाइट अगेंस्ट क्रिमिनल के पत्रकार ने मुंबई पुलिस के प्रवक्ता प्रणय अशोक से संपर्क किया तो उन्होंने ने बात करने से साफ मना कर दिया। इधर गोवंडी के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक बाबा साहेब केदार ने कहा कि उनके क्षेत्र में तो स्पा हैं ही नही तो जिस्मफरोशी कहा से होगी।
जानकारी के अनुसार गोवंडी में चल रहे स्पा के भीतर जिस्म का सौदा में स्थानीय पुलिस की मिलीभगत माना जा रही हैं, इसीलिए इस इलाके में चल रहे देहव्यापार की शिकायत क्राइम ब्रांच के चीफ के पास दिया भेज दिया गया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *