Bihar Cricket Crime Delhi Education Entertainment Gujarat Health International Madhya Pradesh Maharashtra National Politics Social States Uncategorized Uttar Pradesh West Bengal

पत्रकार मनोज दुबे पे हुवे हमले और घाटकोपर पुलिस स्टेशन द्वारा फ़र्ज़ी केस बनाये जाने पर भारतीय पत्रकार संघ आया आगे दुबे के सहयोग में। एम एस शेख

पत्रकार मनोज दुबे पे हुवे हमले और घाटकोपर पुलिस स्टेशन द्वारा फ़र्ज़ी केस बनाये जाने पर भारतीय पत्रकार संघ आया आगे दुबे के सहयोग में। एम एस शेख

अनिल सकपाल 
घाटकोपर पुलिस स्टेशन के पुलिस उपनिरीक्षक यूसुफ शेख ने सामिया नाम की लड़की के साथ निकाह करके उसके साथ मारपीट करने लगा।जब पीड़ित महिला गर्भवती हुवी और उसने एक लड़की को जन्म दिया तो यूसफ़ शेख ने उस पीड़ित महिला को तीन तलाख दे दिया।छोटे बच्चे को लेकर पीड़ित महिला खुद कर लिए इंसाफ मांगने जब घाटकोपर पुलिस स्टेशन पहुची तो उसकी शिकायत नही लिखी जाती थी।

परेशान महिला ने जब मुंबई पुलिस के उच्च अधिकारियों को जब जस बात की लिखित शिकायत की तयब जाके घाटकोपर पुलिस स्टेशन में महिला की शिकायत लिखी गयी।उसके बाद यूसफ़ शेख वहां से फरार हो गया।एफआईआर के अनुसार पत्रकार दुबे ने इस घटना की खबर अखबार में लगाई थी।

कोर्ट से अंतरिम जमानत मिलने पर यूसुफ शेख अपने साथियों के साथ घाटकोपर पुलिस स्टेशन पे पत्रकार दुबे पे जानलेवा हमला कर दिया और डयूटी पे तैनात पुलिस निरीक्षक शेलार और पुलिस स्टाफ के सामने बुरी तरह मारना शुरू किया और बोला तूने मेरी न्यूज़ लगाई तुझे अब देख मैं कैसे फसता हु अब तेरे पे एफआईआर बनवाता हु।

जब इस बात की शिकायत दुबे ने पुलिस आयुक्त जोन 7 के दहिया सर को की उन्होंने वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक से मिलने को कहाँ।वरिष्ठ निरीक्षक से बात करने पर बोला गया आप पुलिस निरीक्षक मदन पाटिल से मिलो।जब दुबे ने मदन पाटिल से संपर्क किया वो एक घंटे बाद आकर दुबे को लिखित शिकायत करने बोलते है दुबे जैसे अपनी शिकायत लिखने बैठता है तो पुलिस निरीक्षक लांडगे के केबिन में आकर यूसुफ ने हमला करने का प्रयास किया।खुले आम पुलिस स्टेशन में यूसफ़ शेख गुंडई करता रहा उसे किसी ने मना नही किया।

दुबे की शिकायत पे पुलिस ने कुछ करवाई नही की और फर्यादी को ही आरोपी बना कर फ़र्ज़ी केस में फसा दिया गया।

लगतार पत्रकारो पे हो रहे हमले और पुलिस द्वारा पत्रकार की आवाज़ दबने का प्रयत्न किया जा रहा है सच लिखने की सजा दी जा रही है पत्रकारों को।ऐसे में भारतीय पत्रकार संघ के महाराष्ट्र प्रदेश अध्यक्ष मो.सईद शेख पत्रकार दुबे के समर्थन मैं उतरे और उन्होंने ने बताया कि पत्रकार पे हो रहे हमले को कभी बर्दाश्त नही किया जाएगा। एम एस शेख ने महाराष्ट्र पुलिस महासंचालक,मुंबई कमिश्नर, पुलिस उपायुक्त परिमंडल 7 और अपर पुलिस आयुक्त पूर्व पार्देशिक विभाग कों पत्र लिखकर इस बात को गंभीरता से लेकर घाटकोपर में लगे सभी सीसीटीवी फुटेज की जांच की मांग की और आरोपी के खिलाफ सख्त से सख्त करवाई की मांग की है
अब देखना है घाटकोपर पोलिस पत्रकार पे बने फ़र्ज़ी केस पर क्या करवाई करती है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *