Entertainment Health International National Politics Social States Uttar Pradesh

मुज़फ्फरनगर दरगाह में सोशल डिस्टेंस के साथ जनता को कराई गई जियारत।

मुज़फ्फरनगर दरगाह में सोशल डिस्टेंस के साथ जनता को कराई गई जियारत।


—————
जलालाबाद, शामली( उत्तर प्रदेश,ज़ीशान काज़मी)
प्राप्त जानकारी के अनुसार,जनपद मुज़फ्फरनगर के कस्बा बघरा स्तिथ विश्व प्रसिद्ध दरगाह
में नौचंदी जुमेरात के उपलक्ष में ज़ायरीन आये। दरगाह में सामाजिक दूरी, थर्मल स्क्रीनिंग , हाथ धुलाई, सांनीटआईज़शन, आदि की व्यवस्था का प्रबंध किया गया। लोगो को दूरी पर खड़े करके 5, 5 लोगो को दरगाह में प्रवेश दिया गया। दरगाह के जनरल सेक्रेटरी इमरान अली व डिप्टी सेक्रेटरी जावेद रजा ने बताया की नौचंदी जुमेरात हर माह चाँद की पहली तारीख में आती है। इमरान अली ने बताया कि कोविड 19 के कारण पूरे विश्व व भारत मे अनेको संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे है। हम इसके लिए अत्यंत चिंतित है।

कोरोना के कारण देश की अर्थव्यवस्था बुरे दौर में पहुंच गई है. बेरोजगारी बढ़ रही है, नौकरियों को लेकर लोग चिंतित हैं, शेयर बाजार, म्यूचुअल फंड में लगाये जाने वाले पैसे नुकसान में हैं. उद्योगों को खोलने की इजाजत तो मिल गई लेकिन वो, ना जाने आगे क्या होगा के संकट से जूझ रहे हैं. सरकार को कोई ठोस नीति लानी चाहिए, प्राइवेट कंपनियां किस मुश्किल दौर से गुजर रहीं हैं और उनकी क्या मांग है और व्यक्तिगत तौर पर हमारी और आपकी क्या परेशानी है।

क्योंकि बाजार में नकद की कमी है और फिलहाल उसे पूरा करने पर ध्यान होना चाहिए। मेरी राय में इस समय सबसे जरूरी है, लोगों का खर्च करना. खर्च नहीं करने के नतीजे बहुत गंभीर हो सकते हैं और खर्च तभी होगा, जब लोगों की आय सुरक्षित होगी. सरकार के सामने ये भी एक बड़ी चुनौती है क्योंकि भारत में 12 करोड़ लोग बेरोजगार हो चुके हैं. हमारे देश में बेरोजगारी दर 27.1% हो गई है।

इमरान अली ने बताया कि हमे संक्रमण से लड़ने केलिए अपने इम्युनिटी सिस्टम को बहुत मजबूत करना पड़ेगा। ताकि स्वास्थ्य पर कम से कम खर्च हो साथ ही संक्रमित बीमारियों से भी हम बचे रहे। विपदा के इस बुरे समय मे हमे बड़ी समझदरी से काम लेना होगा। अधिक से अधिक अपने घरों में रहे । हाथों को साबुन से बार धोये। बाहर निकलने से पहले सैनिटाइजर लगाए। खासते छींकते समय टिश्यू पेपर या कुहनी का इस्तेमाल करे। लोगो से सामाजिक दूरी बनाकर रहे। अगले सप्ताह वन महोत्सव मनाया जाएगा।

जो 1950 में भारत के तत्कालीन कृषि व खाद्य मंत्री के एम मुंशी द्वारा प्रारम्भ किया गया था। हम 1 जुलाई से 7 जुलाई तक दरगाह में वृक्षारोपन करेंगे। इसमे औषधीय पेड़ अधिक लगाए जाएंगे। इमरान अली ने प्राकृतिक काढ़ा के बारे में लोगो को बताया। बाद में सभी कमेटी के लोगो ने लद्दाख की गलवान घाटी में शहीद हुए हमारे वीर जवानों को अश्रुपूर्ण श्रंद्धाजलि दी। और उनकी आत्मा की शांति के लिए मौन रखा। इमरान अली ने कहा कि भारत चीन के बीच लगभग हर साल 6 लाख करोड़ का कारोबार होता है। द्विपक्षीय व्यापार में आयात और निर्यात का बड़ा ही योगदान होता है।

भारत चीन से हर साल करीब 4.9 लाख करोड़ रुपए का आयात करता है जबकि चीन भारत से 1.2 लाख करोड़ का निर्यात करता है।  इसके बावजूद चीन ऐसी अक्षम्य व नीच हरकत कर रहा है। उन्होंने कहा कि चीनी सामान का बहिष्कार करे और स्वदेशी अपनाये। इस मौके पर इमरान अली , जावेद, रियासत अली , मोहमद रजा उर्फ सुक्का आदि उपस्तिथ रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *