Health

डा राजेंद्र प्रसाद केंद्रीय कृषि विश्व विद्यालय के किसान हित में लिए जा रहे फैसलों की भारतीय कृषि अनुसंधान की ओर से लगातार सराहना हो रही है।

डा राजेंद्र प्रसाद केंद्रीय कृषि विश्व विद्यालय के किसान हित में लिए जा रहे फैसलों की भारतीय कृषि अनुसंधान की ओर से लगातार सराहना हो रही है।

समस्तीपुर/पूसा(जकी अहमद)

डा राजेंद्र प्रसाद केंद्रीय कृषि विश्वविद्यालय के किसान हित में लिये जा रहे फैसलों की भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान की ओर से लगातार सराहना हो रही है। पुस्तक में कृषि विज्ञान केंद्रों के स्थान मिलने के बाद अब कृषि विज्ञान केंद्र सीवान और कृषि विज्ञान केंद्र सारण के किसान को आईसीएआर की ओर से सम्मानित किया जा रहा है। विश्व विद्यालय के कुलपति डा रमेश चंद्र श्रीवास्तव ने किसान एव इन दोनों केवीके के वैज्ञानिकों को बधाई दी है। आपको बता दे कि किसान श्री शिव प्रसाद सहनी और रामशंकर सिंह को भारतीय कृषि अनुसंधान संस्थान की ओर से स्थापना दिवस पर सम्मानित किया रहा है। इन दोनों की ट्रेनिंग विश्व विद्यालय के कुलपति डा रमेश चंद्र श्रीवास्तव के निर्देश पर चलायी जा रही योजनाओं कै तहत दिया गया था जिसके बाद ईन दोनों ने विश्व विद्यालय की विभिन्न तकनीकों को अपनी खेती में उपयोग किया और उससे इनकी आमदनी में वृद्धि हुई जिसके बाद आस पास के किसानों ने भी उन तकनीकों को अपना लिया और वे अच्छा मुनाफा कमा रहे हैं। इन दोनों को जगजीवन राम अभिनव पुरस्कार से सम्मानित किया जा रहा है। डा श्रीवास्तव ने किसानों,वैज्ञानिकों और निदेशक प्रसार शिक्षा डा एम एस कुंडू को बधाई दी और कहा कि डा कुंडू के निर्देशन मे कृषि विज्ञान केंद्र काफी अच्छा काम कर रहे हैं। डा कुंडू ने कहा कि कुलपति किसानों की समस्या को लेकर काफी गंभीर हैं और किसानों की आमदनी दोगुनी करने को लेकर उन्होंने कई योजनायें बनाई हैं। उन योजनाओं को वे साकार करने की कोशिश कर रहे है जिसका नतीजा दीख रहा है, और विश्व विद्यालय के प्रयासों की विभिन्न स्तर पर सम्मान भी मिल रहा है। डा कुंडू ने भी किसानों को बधाई दी तथा अन्य किसानों को विश्व विद्यालय के कृषि विज्ञान केंद्रों से जुड़ने का आह्वान किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *