Crime Education Health National Politics Social States Uncategorized Uttar Pradesh

फर्जी बीएड की डिग्री पर नौकरी करने वाले निलंबित अध्यापक फरियादी को दे रहे हैं जान से मारने की व फर्जी मुकदमे में फंसाने की धमकी

फर्जी बीएड की डिग्री पर नौकरी करने वाले निलंबित अध्यापक फरियादी को दे रहे हैं जान से मारने की व फर्जी मुकदमे में फंसाने की धमकी

फरियादी ने लगाई मुख्यमंत्री से जानमाल की सुरक्षा की गुहार

अगर निलंबित अध्यापक से राजकोषीय धन की वसूली व सुसंगत धाराओ मे नही दर्ज होता है मुकदमा तो मै 09 सितंबर को संयुक्त शिक्षा निदेशक सप्तम मंडल गोरखपुर के कार्यालय पर करूंगा आत्म दाह राजेश कुमार यादव

देवरिया ।  फर्जी बीएड की डिग्री पर नौकरी करने वाले एक निलंबित अध्यापक द्वारा आए दिन फरियादी को ही जान से मारने और फर्जी मुकदमें में फंसाने की धमकी देने का मामला प्रकाश में आया है । जहां राजेश कुमार यादव पुत्र राम नगीना यादव ग्राम फुलवरिया पांडे पोस्ट मिर्जापुर थाना व तहसील बरहज जिला देवरिया ने मुख्यमंत्री पोर्टल ऑनलाइन जनसुनवाई के संबंध में 11 नवंबर 2018 में सोनाडी इंटर कॉलेज सोनाड़ी जनपद देवरिया में उस समय तैनात सहायक अध्यापक रमाशंकर यादव पुत्र स्वर्गीय दूधनाथ यादव द्वारा फर्जी अंक पत्रों जैसे बीएड की डिग्री राष्ट्रीय पत्राचार संस्थान कानपुर से वर्ष 1998 में अनुक्रमांक 699 के आधार पर एलटी वेतन क्रम में प्रबंधक/ प्रधानाचार्य सोनाडी इंटर कॉलेज सोनाडी जनपद देवरिया व तत्कालीन जिला विद्यालय निरीक्षक देवरिया द्वारा कराने व रामाशंकर यादव के अंक पत्रों की जांच कर कार्रवाई किए जाने के विशेष शिकायत की गई थी । जिस पर प्रबंधक प्रधानाचार्य सोनाडी इंटर कॉलेज सोनाडी जनपद देवरिया एवं तत्कालीन जिला विद्यालय निरीक्षक जनपद देवरिया द्वारा की गई रामाशंकर यादव सहायक अध्यापक की नियुक्ति एवं उनके बीएड की डिग्री एवं अंक पत्रों की जांच हेतु जिला विद्यालय निरीक्षक के कार्यालय के पत्र 8911 -1412018,  3 नवंबर 18 महेंद्र प्रसाद उप प्रधानाचार्य राजकीय इंटर कॉलेज देवरिया को जांच अधिकारी नियुक्त किया गया था यही नहीं राजेश कुमार यादव ने मंडलायुक्त महोदय गोरखपुर को दिनांक 8 10 -2018 के कार्यालय में भी शिकायती पत्र दिया था जो जिलाधिकारी के आदेश पर कार्यालय को प्राप्त हुआ था के द्वारा प्रकरण पर कार्रवाई किए जाने का निर्देश दिए गए थे फिर भी रमाशंकर यादव का भी काफी प्रभावशाली व्यक्ति होने के कारण प्रभाव में आकर जांच को लटकाए रखा जबकि शुरू से ही जिला विद्यालय निरीक्षक व जांच अधिकारी महेंद्र प्रसाद वा जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय के बाबू रमाकांत यादव जो शुरू से ही रमाशंकर यादव इसी बीच प्रबंध समिति सोनारी इंटर कॉलेज शास्त्री कमेटी गठित किया जांच के दौरान उक्त रमाशंकर यादव को 25 मार्च 19 को निलंबित कर दिया गया जिसकी सूचना प्रबंध समिति ने शिक्षा विभाग से संबंधित समस्त उच्च अधिकारियों को दिया । मुख्यमंत्री को भेजे गए पत्र में राजेश कुमार यादव ने आरोप लगाया कि उक्त निलंबित अध्यापक बार-बार जान से मारने व फर्जी मुकदमे में फंसाने की धमकी दे रहा है जिससे मेरे घर पर रहना मुश्किल हो गया है वह कभी भी हमारी हत्या कर सकता है मुख्यमंत्री को भेजे गए पत्र में राजेश कुमार यादव ने कहा कि अगर उक्त निलंबित सहायक अध्यापक उमाशंकरश सोनाडी इंटर कॉलेज सुनाडी जनपद देवरिया के ऊपर  राज्यकोषीय वसूली  व में मुकदमा दर्ज नहीं होता है तो 9 सितंबर को संयुक्त शिक्षा निदेशक सप्तम मंडल गोरखपुर के कार्यालय के सामने आत्म दाह कर लूंगा जिसकी सारी जिम्मेदारी संयुक्त शिक्षा निदेशक सप्तम मंडल गोरखपुर वा जिला विद्यालय निरीक्षक देवरिया व जिला विद्यालय निरीक्षक देवरिया के बाबू रमाकांत यादव की होगी ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *