Crime

बार गर्ल बनी लूटेरी अपने ही दोनो बेटे के साथ मिलकर बनाई “मिर्ची पाउडर गैंग” और दे दिया एक लूट की वारदात को अंजाम

बार गर्ल बनी लूटेरी अपने ही दोनो बेटे के साथ मिलकर बनाई “मिर्ची पाउडर गैंग” और दे दिया एक लूट की वारदात को अंजाम

इंद्रदेव पांडे

महाराष्ट्र से सटे ठाणे ग्रामीण जिले के काशीमीरा पुलिस स्टेशन के अंतर्गत आने वाले क्षेत्र में एक महिला ने माँ शब्द के नाम की धज्जियां उड़ाते हुए अपने ही दो बेटे के साथ मिलकर एक जेष्ठ नागरिक को उधार में लिए हुए पैसे वापस लौटने के बहाने बनाया लूटने योजना और फिर तैयार हुई ‘मिर्ची पाउडर गैंग’

मामले की जानकारी प्राप्त करने के लिए फाइट अगेंस्ट क्रिमिनल के पत्रकार ने ठाणे ग्रामीण क्षेत्र के काशी मीरा क्राइम ब्रांच शाखा के सहायक पुलिस निरक्षक प्रमोद बडाख से संपर्क किया गया तो उन्होंने बताया कि मामला दिनाक ४ अगस्त को काशी मीरा पुलिस स्टेशन की हद में आने वाले क्षेत्र में एक जेष्ठ नागरिक जो कि पहले डाक विभाग में नौकरी कर चुके थे। जिनकी मुलाकात एक तीन नाम बदलकर रहती थी और इस महिला का नाम ज्योति उर्फ नीलोफर उर्फ अनिता गोपाल वायपल (४२) से हुई थी. जो कि पेशे से पहले बार गर्ल थी. महिला ने फरयादी से कुछ महीने पहले फरियादी से कुछ पैसे उधार लिए थे। मगर मुसीबत में मदत करने आये फ़ियादी को पता नहीं था. की उसके ही पीट पीछे वार होने वाला है. महिला को पता था कि उसने जिनसे दोस्ती की है वह अपने शरीर पर सोने की चैन, ब्रेसलेट, अंगूठी, मंहगे मोबाइल फोन और पैसे हमेशा अपने पास में हरवक्त रखता था। यह चीज़ महिला ने अपने दिमाग में रखी थी। एक दिन महिला ने अपने दोनों बेटों के साथ मिलकर लूट की वारदात को देने की योजना बनाई और एक “मिर्ची पाउडर गैंग” तैयार कर दिनाक ४ अगस्त के दिन वारदात को अंजाम देकर जेष्ठ नागरिक को उधार लिए हुए पैसे वापस लौटने के बहाने बुलाया और फरियादी जैसे ही मौके पर आया वैसे ही बाइक पर दो अज्ञात लोगों आये और फरयादी की आंखों में मिर्ची पाउडर डालकर लूट की वारदात को अंजाम दे दिया था। १ लाख ५ हज़ार रुपए की कीमती सामान ले उड़े थे।

 

जिसके बाद काशी मीरा पुलिस ने अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर छानबीन में जुट गई थी। ठाणे ग्रामीण क्षेत्र के एसपी शिवाजी राठौड़ ने मामले को गंभीरता से लेकर एक टीम नियुक्ति की गई थी। जिसके बाद काशी मीरा क्राइम ब्रांच के अधिकारी छानबीन में जुट गए थे और काशी मीरा क्राइम ब्रांच के अधिकारियों को सफलता मिली और मुखबिर की सूचना पर पालघर जिले के नालासोपारा बिलाल पाडा से तबरेज़ उर्फ मुन्ना आजम खान (२४) जो कि पेशे से ऑटो रिक्शा चालक को पुलिस ने अपनी पूछताछ के लिए हिरासत में लिया था। जिसके बाद पुलिस की पूछताछ में तबरेज़ ने अपना गुनाह कबूल कर लिया और इस लूट की योजना बनाने वाली मिर्ची पाउडर गैंग की मुखिया ज्योति उर्फ नीलोफर उर्फ अनिता गोपाल वायपल (४२) और मेहताब उर्फ छोटू आजम खान (२३) को गिरफ्तार कर लिया सभी आरोपियों ने अपना गुनाह कबूल कर लिया और कोर्ट में पेश किया गया था जहां कोर्ट ने २१ तारीख तक पुलिस हिरासत में भेज दिया है

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *