Crime Health Maharashtra Social

घाटकोपर में एक गर्भवती महिला पे जान लेवा हमला। हमले में अजन्मे बच्चे की हुई मौत।

घाटकोपर में एक गर्भवती महिला पे जान लेवा हमला।
हमले में अजन्मे बच्चे की हुई मौत।

सादिक बाम्बोत

घाटकोपर पुलिस थाने की हद में नारायण इलाके में रहने वाले दो पड़ोसियों में आपसी रंजिश की वजह हुवे झगड़े में एक गर्भवती महिला को अपने होने वाले मासूम बच्चे से हाथ धोना पड़ा।पीड़ित महिला जमीला खातून शेख के अनुसार उसके पड़ोस में रहने वाली महिला अनिधिकृत तरिके से अपने घर का बांध काम करा रही थी जिसकी वजह से जमीला और उसकी पड़ोसी का आपस मे झगड़ा सुरु हो गया।जमीला ने बताया कि उसकी पड़ोसन पहेले से ही झगड़ा करने का सडयंत्र बना कर रखी थी। जमीला पे उसकी पड़ोसी ने अपने परिवार और बाहर के लोगो को बुलाकर हमला कर दिया जिसकी फुटेज सीसीटीवी में कैद है।जमीला और उसके बच्चे जैसे तैसे जान बचाकर पुलिस सहायता के लिए पुलिस थाने जाते है वहाँ उनको दोपहर 3 बजे से लेकर रात के 11 बजे तक बैठाया गया पीड़ित महिला के अनुसार वो बार बार डयूटी पर तैनात महिला पुलिस उपनिरीक्षक से विनंती करती रही कि उसे अस्पताल भेजा जाए लेकिन अधिकारीयो ने महिला की तकलीफ समझी नही देर रात महिला को अस्पताल भेज के मेडिकल कराया गया।महिला ने बताया कि कोरोना के चलते डॉक्टर दूर से ही देख कर मेडिकल बनके भेज देते है।
महिला जब अपने घर आयी दूसरे दिन सुबह उसके पेट मे दर्द होने लगा और महिला को ब्लड निकलने लगा जिसे देखकर उसके घरवालों ने उसे घाटकोपर के अस्पताल में भर्ती करवाया जहाँ महिला की हालत देखते हुवे उसका तुरंत इलाज किया गया जहाँ उसके गर्भ में पल रहे बच्चे की मौत हो चुकी थी।महिला ने घाटकोपर पुलिस थाने में अपनी लिखित शिकायत भी दी है फिर भी अभी तक घाटकोपर पुलिस थाने द्वारा कोई शिकायत दर्ज नही की गई है।पीड़ित महिला के अनुसार अगर वक़्त पे डयूटी अधिकारी द्वारा उसे सहायता मिलती तो आज उसके मासूम अजन्मे बच्चे की मौत नही होती दुनिया मे आने से पहले ही एक मासूम को दुनिया से जाना पड़ा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *