Bihar Education Entertainment Health International National Politics Social States

राशन-किराशन, मनरेगा में काम, शिक्षा और स्वास्थ्य का अधिकार गरीबों को देने की गारंटी करे सरकार:- गोपाल रविदास

राशन-किराशन, मनरेगा में काम, शिक्षा और स्वास्थ्य का अधिकार गरीबों को देने की गारंटी करे सरकार:- गोपाल रविदास

समस्तीपुर (जकी अहमद)

उजियारपुर प्रखण्ड क्षेत्रके हरपुर रेवाड़ी पंचायत भवन कार्यालय में भाकपा माले से जुड़े अखिल भारतीय खेत एवं ग्रामीण मजदूर सभा (खेग्रामस) का दूसरा प्रखंड सम्मेलन के अवसर पर भाकपा-माले के बिहार विधानसभा में फुलवारी के विधायक कॉ० गोपाल रविदास ने कहा कि मजदूरों और किसानों के ऊपर पिछले किसी भी समय से ज्यादा खतरा मोदी की सरकार में बढ़ गया है ये अंबानी-अडानी की सरकार है जो देश को कम्पनी के हाथों बेच रहा है । अकुशल श्रमिकों को बंधुआ मजदूर बनाने के मंसूबों के साथ केन्द्र की सरकार ने चार श्रम कोड कानून देश में लागू कर दिया है । उन्होंने कहा कि तीनों काला कृषि कानून वापस नहीं लिया गया तो देश की कृषि व्यवस्था कारपोरेट के हाथों गुलाम हो जाएगा । मोदी और बिहार में नीतीश कुमार की सरकार किसान आंदोलन में शहीद किसानों को श्रद्धांजलि देने भी लोकसभा और विधानसभा से भाग जा रही है । देश में 82 करोड़ लोगों को मिल रहे खाद्य सुरक्षा के लाभ से बंचित करने के नियत से तीनों कृषि कानून लागू किया गया है । गरीब-मजदूरों को राशन-किराशन, मनरेगा में काम, शिक्षा और स्वास्थ्य एवं गरीब-भूमिहीन परिवार को 3 डिस्मिल वासगीत जमीन के नाम पर बड़े पैमाने पर भ्रष्टाचार को बढ़ावा बिहार सरकार दे रही है । उन्होंने कहा कि गरीब-मजदूरों के अधिकार में लूट को हरगीज बर्दाश्त नही किया जाएगा । खेग्रामस के द्वारा बिहार विधानसभा को गरीबों के सवाल पर 3 मार्च को घेरा जाएगा ।
खेग्रामस के दूसरे प्रखंड सम्मेलन को माले नेता फूलबाबू सिंह,खेग्रामस जिलाध्यक्ष उपेन्द्र राय, जिला सचिव जीबछ पासवान, माले प्रखंड सचिव महावीर पोद्दार, फूलेन्द्र प्रसाद सिंह, गंगा प्रसाद,रामप्रीत सहनी,दीलीप राय, खुर्शीद खैर, शंकर प्रसाद यादव के अलावे भाकपा-माले जिला सचिव उमेश कुमार ने संबोधित किया । सम्मेलन की शुरुआत में किसान आंदोलन में शहीद 200 से अधिक किसानों के याद में 2 मिनट का मौन श्रद्धांजलि दिया गया। सम्मेलन की अध्यक्षता ललित पासवान और अमित कुमार राम ने किया ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *