Crime

खुद की कुर्सी बचाने के चक्कर में वसई वालिव पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरक्षक बने फिर्यादि एसपी ने कहा फिर्यादि भी होते है आरोपी नही बक़शुगा अगर दोषी पाए गए तो “कई अधिकारी जाँच के गहरे में” एक गिरफ्तार

खुद की कुर्सी बचाने के चक्कर में वसई वालिव पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरक्षक बने फिर्यादि एसपी ने कहा फिर्यादि भी होते है आरोपी नही बक़शुगा अगर दोषी पाए गए तो “कई अधिकारी जाँच के गहरे में” एक गिरफ्तार

एस पी गौरव सिंह पालघर

इंद्रदेव पांडे

महाराष्ट्र से सटे पालघर जिले के वसई वालिव पुलिस स्टेशन के कुछ अधिकारियों की मिली भगत से पालघर जिले में एक सरकारी गैंग तैयार हुई थी. और इस गैंग का नाम “गैंग्स ऑफ खाकी” वर्दी को ही मिला डाला खाक में और दे दिए पुलिस स्टेशन में ही चोरी की वारदात को अंजाम करोड़ो रूपये की ब्रांडेड सिगरेट चोरी करने के मामले में वसई वालिव पुलिस स्टेशन का कॉन्स्टेबल शरीफ शेख गिरफ्तार जिन्हें आज न्यायालय में पेश किया गया जहाँ न्यायालय ने सोमवार तक पुलिस की हिरासत में भेज दिया है.

विलास चौगले वरिष्ठ पुलिस निरक्षक वालिव पुलिस स्टेशन

 

क्या था मामला
वसई के वलिव पुलिस स्टेशन में एक अनोखा मामला सामने आया है।वलिव पुलिस ने अपने ही पुलिस स्टेशन में तैनात एक पुलिस कांस्टेबल को चोरी के आरोप में गिरफ्तार किया है।पुलिसकर्मी पर आरोप है कि उसने पुलिस के मुद्देमाल कक्ष में रखे गए २ करोड़ १६ लाख की विदेशी ब्रांड की सिगरेट की चोरी कर उसे बेच दिया ।दरअसल वलिव पुलिस ने कुछ दिनों पहले एक कार्रवाई के दौरान विदेशी ब्रांड के सिगरेट की तस्करी करने वाले एक गिरोह का भंडाफोड़ किया था और उनके पास से ये माल जपत किया था।कांस्टेबल ने कुछ लोगो की मदत से उसे गायब कर बेच दिया।खुलासा होने के बाद आरोपी कॉन्स्टेबल पर भारतीय दंड कानून सहित धारा ४०९ के तहत मामला दर्ज कर कांस्टेबल को गिरफ्तार कर लिया है।इस मामले में एक पुलिसकर्मी को सस्पेंड भी किया गया है और भी कई अधिकारी नापना तय है सभी पर विभागीय जांच चल रहे हैं दोषी पाने पर गिरफ्तारी तय है.

“वही फाइट अगेंस्ट क्रिमिनल के पत्रकार से बातचीत करते हुए पालघर पुलिस के एसपी गौरव सिंह ने कहा कि फिर्यादि भी आरोपी होते है दोषी पाए जाने पर सख्त कानून करवाई होगी में खुद इस मामले की जाँच कर रहा हूँ”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *