Maharashtra National Social

शिरपुर मर्चंटस् को-ऑप बॅंक लिमिटेड की 2019 के बाद कोई वार्षिक सर्व साधारण मीटिंग नहीं हुई। अचानक चेअरमैन ने  मीटिंग हेतू  फर्मान जारी कर दिया

शिरपुर मर्चंटस् को-ऑप बॅंक लिमिटेड की 2019 के बाद कोई वार्षिक सर्व साधारण मीटिंग नहीं हुई। अचानक चेअरमैन ने  मीटिंग हेतू  फर्मान जारी कर दिया

शिरपुर से हमारे कैमरामैन दुर्गेश ठाकूर के साथ उत्तर महाराष्ट्र ब्यूरो चीफ गोपाल मारवाडी की यह खास रिपोर्ट

शिरपुर जि.धुले- शिरपुर शहर में ही नहीं बल्कि तहसील में चर्चा का विषय बनी दि शिरपुर मर्चंटस् को-ऑप बॅंक लिमिटेड की 2019 के बाद कोई वार्षिक सर्व साधारण मीटिंग नहीं हुई।अचानक 8000 सभासदों (शेअरहोल्डर्स)को बिना विश्वास में लिये, चेअरमैन ने व्हर्चुअल मीटिंग हेतू  फर्मान जारी कर दिया। 2019-20 का वार्षिक लेखाजोखा पत्रक (अहवाल)/अजेंडा तक भी आजतक  सभासदों को नहीं पहुँचाये है।और आश्चर्य की बात हैं कि  विना प्रकाशन या व्हर्चुअल दस्तावेज के रूप में अहवाल/अजेंडा या मिटींग का स्थान, समय, कालावधी के भीतर बहुसंख्य सभासद भाई-बहनों को देखने को भी प्राप्त नहीं हैं।अधिकांश सभासद सर्वसामान्य व्यक्ती हैं।अधिकतर सभासदों को व्हिडीओ कान्फरेंस या झूम ऐप क्या चीज हैं , इसका डाउनलोड और संचालन करके मिटींग में शामिल कैसे होना हैं इसकी बिलकुल भी जानकारी नहीं हैं। अत: जब तक वार्षिक अहवाल/अजेंडा सभी 8000 सभासदों को नहीं पहुँचा दिया जायेगा, तब तक मिटींग रद्द करने हेतु सहाय्यक निबंधक ,सहकारी संस्था, शिरपुर और जिल्हा निबंधक सह. संस्था को  जागरूक सभासदोंने उनके कार्यालय में जाकर अर्जी दी।इस अर्जी में दि.25/03/2021 की प्रस्तावित जनरल मिटींग रद्द करने की माँग की गयी हैं।निवेदन पर सर्वश्री गोपाल के. मारवाडी, मोहन साहेबराव पाटील, युवराज पंडित माळी,राजूलाल मारवाडी, मंगेश माळी, अभिजीत ए.अग्रवाल , ईश्वरभाऊ बोरसे, उदयनराजे पाटील इ.जागरूक सभासद व  नागरिकों के हस्ताक्षर हैं।इस प्रकार हडबडीमें जनरल मिटींग लेने से क्या निष्पन्न होगा ? ऐसे और अनेक प्रश्न शेअर होल्डर्स के मन में उठ रहें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *