Bihar Crime National

मुसरीघरारी थाना क्षेत्र में बालू गिट्टी व्यवसाई के हत्या के मामले में पुलिस को मिली सफलता, गिरफ्तार हुए अपराधी।

मुसरीघरारी थाना क्षेत्र में बालू गिट्टी व्यवसाई के हत्या के मामले में पुलिस को मिली सफलता, गिरफ्तार हुए अपराधी।

समस्तीपुर(जकी अहमद)

मुसरीघरारी थाना क्षेत्र के बरबट्टा ग्राम के सुनसान सड़क पर राजेश कुमार सिंह उर्फ राजू पे0 राम कुमार सिंह की अपराधियों द्वारा गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। इस संबंध में कांड सं0 99/21 दि0 10.08.21 धारा 302 / 34 भा0द0वि0 एवं 27 आर्स एक्ट विरूद्ध अज्ञात दर्ज कर अनुसंधान किया जा रहा है। मृतक राजेश कुमार सिंह मुसरीघरारी एनएच किनारे गिट्टी-बालू का व्यवसाय करते थे। चूंकि सुनसान स्थल पर हत्या हुई थी। घटना का कोई प्रत्यक्षदर्शी नही था। अतः कांड का उद्भेदन काफी चुनौतीपूर्ण था।
वर्तमान पुलिस अधीक्षक समस्तीपुर के नेतृत्व में घटना का उद्भेदन कर लिया है। साथ ही घटना में शामिल एक मुख्य शूटर चंदन कुमार सिंह तथा एक सहयोगी विक्की पासवान को गिरफ्तार कर लिया गया है। अभियुक्तो की गिरफ्तारी में पु0अ0नि0 संजय कुमार सिंह, थानाध्यक्ष मुसरीघरारी थाना तथा पु0अ0नि0 मुकेश कुमार, मुसरीघरारी थाना की भूमिका सराहनीय रही है। अन्य अभियुक्त की गिरफ्तारी हेतु छापेमारी चल रही है। दोनों गिरफ्तार अभियुक्त से विस्तृत पुछताछ एवं तकनीकि अनुसंधान से घटना में शामिल सभी अपराधियो की पहचान तथा घटना के कारणो का खुलासा हो गया है। षडयंत्र में शामिल लोगो की भी पहचान हो चुकी है। तकनीकि अनुसंधान से सभी की संलिप्तता स्थापित है। घटना में शामिल पाँच अभियुक्तो की पहचान हुई है, जिसमें शूटर के रूप में पकडे गए अभियुक्त चन्दन कुमार सिंह के अलावा सूरज कुमार सिंह पे० राम किशोर सिंह ग्राम बरबट्टा तथा आमिर पे० स्व० फुल अहमद ग्राम सातनपुर थाना उजियारपुर शामिल है। इन तीनों के द्वारा अपाची बाईक से पीछा करते हुए सुनसान स्थल पर हत्या की गई थी।स्कोर्पियो का प्रयोग अपराधियो के द्वारा कमला, उजियारपुर से ग्राम बरबट्टा आने में तथा पुनः घटना के पश्चात भागने में किया गया था। उक्त स्कोर्पियो को बरामद कर लिया गया है। विक्की पासवान स्कोर्पियो का चालक है।इसके अलावा अन्य दो लाईनर की पहचान हुई है। इस घटना के पीछे के षड़यंत्र में शामिल अन्य अपराधियों की भी पहचान हो गई है। शीघ्र ही उनकी गिरफ्तारी कर ली जायेगी। घटना का कारण:- घटना का कारण गांव से ही जुडा हुआ है। यह पाया गया है कि मृतक के गांव में मनरेगा के तहत एक पुलिया का निर्माण किया गया है। मृतक का पुल के निर्माण स्थल को लेकर ग्रामीण सुरज सिंह पे0 राम किशोर सिंह ग्राम बरबट्टा से विवाद हो गया था। पुछताछ में यह भी स्पष्ट हुआ है कि मृतक द्वारा एक बेगूसराय की किसी महिला को अन्यत्र किराये पर रखा गया था। अभियुक्तो को भी उसके बारे में जानकारी थी और वे मृतक को इसे लेकर अवांछित रूप से तंग कर रहे थे। उस महिला को लेकर भी मृतक का विवाद अभियुक्तो से था। इन्ही दोनों कारणो के तहत हत्या की गई है।
गिरफतार अपराधियों का नाम-पता:-
01. चंदन कुमार सिंह पे0 बंगाली महतो ग्राम भगवानपुर, कमला थाना उजियारपुर
02. विक्की पासवान ग्राम रायपुर थाना उजियारपुर दोनों जिला समस्तीपुर ।

Leave a Reply