International Politics Social

पाक PM इमरान की नापाक़ी फिर आई सामने, कश्मीर पर अपनी नीति में किया बदलाव

पाक PM इमरान की नापाक़ी फिर आई सामने, कश्मीर पर अपनी नीति में किया बदलाव

अफगानिस्तान में तालिबान की सरकार के बाद नापाक़ पाक ने कश्मीर के लिए अपनी नीति में एक बार फिर से बदलाव किया है. आतंकी गतिविधियों के लिए दुनियाभर में कुख्यात पाकिस्तान और उसके प्रधानमंत्री इमरान खान तालिबान के शासन के बाद कश्मीर में अपने फायदे की ओर देख रहे हैं.

हाल ही में पाकिस्तानी आईएसआई चीफ फैज हमीद ने अफगानिस्तान के मुद्दे पर रूस, चीन, ईरान, ताजिकिस्तान समेत कई देशों के खुफिया विभाग के प्रमुखों के साथ एक अहम बैठक की थी और नई अंतरिम तालिबान सरकार को लेकर ब्रीफ किया था. इन सबके बीच, प्रमुख अधिकारियों का मानना है कि जल्द ही पाकिस्तान एक बार फिर से कश्मीर पर ध्यान केंद्रित करेगा और इसके संकेत जमीन पर मिलने लगे हैं.

मसरत आलम को हाल ही में ऑल पार्टी हुर्रियत कॉन्फ्रेंस का प्रमुख बनाया गया, जबकि विरोधी उसका विरोध भी कर रहे थे. खुफिया एजेंसी के सूत्रों का कहना है कि शब्बीर शाह, जो सलाखों के पीछे है, को एपीएचसी जी गुट के उपाध्यक्ष के रूप में नामित किया गया. इस बीच यह एपीएचसी के नरमपंथी धड़े के लिए संकेत है कि पाकिस्तान को केवल कट्टरपंथियों की जरूरत है, जो एक मजबूत भारत विरोधी रुख अपना सकें. सूत्रों ने कहा कि गुरुवार को इस बारे में एक बैठक हुई थी, लेकिन निर्णय में कोई बदलाव नहीं हुआ.

Leave a Reply