Cricket Crime Entertainment Health Politics Uncategorized

भाजपा के पूर्व आमदार सरदार तारा सिंह के बेटे राजनीत सिंह, पीएमसी बैंक खोटाले के केस में आर्थिक अपराध शाखा ने किया गिरफ्तार अब तक आठवीं गिरफ्तारी हुई है

भाजपा के पूर्व आमदार सरदार तारा सिंह के बेटे राजनीत सिंह, पीएमसी बैंक खोटाले के केस में आर्थिक अपराध शाखा ने किया गिरफ्तार अब तक आठवीं गिरफ्तारी हुई है

मुंबई – इंद्रदेव पांडे

शनिवार को गिरफ्तार हुआ रजनीत सिंह, भाजपा के पूर्व विधायक तारा सिंह का बेटा है रजनीतको मुंबई पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) ने गिरफ्तार किया पूर्व चेयरमैन वरयाम सिंह और पूर्व निदेशक एससुरजीत सिंह अरोड़ा की गिरफ्तारी हो चुकी है पूर्व एमडी जॉय थॉमस,डायरेक्टर राकेश वाधवान और उनके बेटे सारंग को भी गिरफ्तार किया गया है

पीएमसी बैंक घोटाले के मामले में मुंबई पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा (ईओडब्ल्यू) ने बैंक के पूर्व डायरेक्टर रजनीत सिंह सिंह को गिरफ्तार कर लिया है। शुक्रवार को गिरफ्तार हुआ रंजीत, भाजपा के पूर्व विधायक तारा सिंह का बेटा है।

इस मामले में मुंबई पुलिस की आर्थिक अपराध शाखा ने बैंक के पूर्व चेयरमैन वरयाम सिंह, पूर्व एमडी जॉय थॉमस और एचडीआईएल के प्रमोटरों के खिलाफ केस दर्ज किया था। जांच के बाद बैंक के पूर्व निदेशक एससुरजीत सिंह अरोड़ा,एचडीआईएल समूह के प्रवर्तकों- राकेश और सारंग वाधवन, बैंक के पूर्व अध्यक्ष वरयाम सिंह और पूर्व प्रबंध निदेशक जॉय थॉमस को गिरफ्तार किया गया था। ऑडिटर जयेश संघानी, केतन लकडावाला को भी गिरफ्तार किया था। दोनों पर बैंक अफसरों से मिलीभगत, अनियमितताएं छिपाने में अहम भूमिका होने का शक है।

एचडीआईएल को कर्ज देने में की गड़बड़ी

ईओडब्ल्यू ने दावा किया कि पीएमसी ने एचडीआईएल के ४४ लोन अकाउंट को रिप्लेस किया, जिनका देनदारी काफी ज्यादा थी। आरोप है कि एचडीआईएल को कर्ज देने में गड़बड़ी से पीएमसी बैंक को ४,३५५ करोड़ का नुकसान हुआ। जांच एजेंसियो का कहना है किथॉमस और बैंक के बोर्ड को इस गड़बड़ी की पूरी जानकारी थी।ईडी ने एचडीआईएल के प्रमोटरों काप्राइवेट जेट और कारेंभी जब्त कर लीथीं।

७३% कर्ज एक ही कंपनी को दे दिया, जो एनपीए बन गया

पीएमसी ११,६०० करोड़ से ज्यादा जमा राशि के साथ शीर्ष १० सहकारी बैंकों में से एक है। बैंक ने एचडीआईएल को ६,५०० करोड़ का कर्ज दे दिया, जाे बैंक के कुल कर्ज का ७३% है। एचडीआईएल के कर्ज नहीं चुकाने से संकट हो गया। आरबीआई ने सितंबर में बैंक पर 6 महीने का प्रतिबंध लगाया।
आरबीआई ने पहले निकासी की सीमा १००० रुपए तय की थी, जिसे बाद में बढ़ाकर ५० हजार कर दिया गया। अब प्रतिबंध लागू रहने तक खाताधारक बैंक से केवल ५० हजार रुपए ही निकाल सकेंगे। खाताधारकों में आरबीआई के कर्मचारी भी हैं। इनके २०० करोड़ रुपए से ज्यादा जमा हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *