Crime Entertainment Health Politics Uncategorized

घाटकोपर पुलिस स्टेशन के बर्खास्त पीएसआई यूसफ़ शेख की शह पर घाटकोपर के 2 ईमानदार कर्तव्यनिष्ठ पुलिस हवलदार के खिलाफ झूठे केश में फ़साने की साजिश।

घाटकोपर पुलिस स्टेशन के बर्खास्त पीएसआई यूसफ़ शेख की शह पर घाटकोपर के 2 ईमानदार कर्तव्यनिष्ठ पुलिस हवलदार के खिलाफ झूठे केश में फ़साने की साजिश।

मुम्बई मनोज दुबे 

घाटकोपर पुलिस के बर्खास्त पी एस आई युशूफ शेख ने घाटकोपर पुलिस के 2 हवलदार “अजय गव्हांने” “शिशुपाल जगधाने” को झूठे आरोप में फंसाने के के लिए सामिया को कहा जब सामिया ने कहा की मैं किसी पर झूठा आरोप नहीं लगा सकती हूं तो उसके साथ मारपीट किया जिसका उल्लेख सामिया ने अपने तक्रार अर्ज में किया हुआ है

अजय गवहाने

जब सामिया ने झूठा आरोप लगाने से मना कर दिया तो किसी अन्य महिला के माध्यम से अजय गव्हांने तथा शिशुपाल जगधाने के खिलाफ झूठी तक्रार अर्ज घाटकोपर पुलिस स्टेशन में करवाया है घाटकोपर पुलिस स्टेशन का एक पी आई पता नहीं किसकी सह पर इन दोनों ईमानदार कर्तव्यनिष्ठ पुलिस हवलदार को फंसाने की साजिश कर रहा है जिस दिन का महिला ने छेड़छाड़ के संदर्भ में उल्लेख किया है उस दिन शिकायत क्यों नहीं दर्ज करवाई, मेडिकल किया हुआ है

शिशुपाल जगधाने

क्या उस दिन दोनो हवलदार तथा महिला के मोबाइल का लोकेसन ट्रेस करना चाहिए। किस की सह पर दोनों ईमानदार पुलिस हवलदार को फंसाने की साजिश रची जा रही है इसकी निष्पक्ष जांच की जानी चाहिए। दोनो ईमानदार कर्तव्यनिष्ठ हवलदार को मानसिक रूप से इतना प्रताड़ित किया हुआ है कि दोनों हवलदार उस पी आई कि प्रताड़ना से परेशान होकर आत्महत्या की मनस्तिथि में ऐसी हालत में इसका जिम्मेदार वही पी आई होगा

पुलिस विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों को संज्ञान लेते हुये ऐसे अधिकारी पर कार्यवाही करनी चाहिए और निष्पक्ष जांच करके ईमानदार कर्तव्यनिष्ठ पुलिस हबलदारों के खिलाफ झूठी शिकायत दर्ज करवाने का प्रयास करने वाली महिला पर भी आवश्यक कार्यवाही की जानी चाहिए जिससे पुलिस पर झूठा आरोप लगाने कर उनका मनोबल गिराने की कोशिश करने वालों को भी दंडित किया जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *