Entertainment Health Politics

महाराष्ट्र सरकार ने अखबार और पत्रिकाएं को घर-घर पहुंचाने से बचने को कहा है

महाराष्ट्र सरकार ने अखबार और पत्रिकाएं को घर-घर पहुंचाने से बचने को कहा है

(संवाददाता लियाकत शाह)

मुंबई: महाराष्ट्र मे कोरोना वायरस महामारी के चलते मुख्यमंत्री कार्यालय ने शनिवार को कहा कि दुकानों और स्टॉलों पर अखबारों, पत्रिकाओं की बिक्री की अनुमति है, लेकिन साथ ही उसने प्रिंट मीडिया क्षेत्र से घर-घर जाकर समाचार पत्र और पत्रिकाएं पहुंचाने से बचने को भी कहा है। सीएमओ ने सिलसिलेवार ट्वीट में शनिवार को यह कहा।

राज्य सरकार ने कहा कि वह मीडिया का पूरे हृदय से समर्थन करती है और कोरोना वायरस महामारी का मुकाबला करने में उसका सहयोग चाहती है। मुख्यमंत्री कार्यालय के बयान में कहा गया है, ‘‘हम मीडिया से घर-घर जाकर अखबार एवं पत्रिकाएं पहुंचाने से बचने का अनुरोध करते हैं। हम मीडिया का पूरे हृदय से स्वागत करते हैं और सुझावों एवं आपत्तियों को लेकर उसकी ओर ताकते हैं। लेकिन ऐसी महामारी के समय में, जहां हमें वाकई लोगों की आवाजाही में कमी लाने और सुरक्षा बढ़ाने की जरूरत है, ज्यादातर आर्थिक कामकाज मुश्किल दौर से गुजर रहे हैं।” बयान में मुख्यमंत्री ने कहा,

‘‘मीडिया समय की कसौटी पर खरा उतरा है। सच्चाई का गला नहीं घोंटा जा सकता है. हम उसके लिए आपके सहयोग का अनुरोध करते हैं।” मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के सहयोगी हर्षल प्रधान द्वारा जारी बयान में कहा गया है कि ठाकरे ने अखबारों के मालिकों और संपादकों से बातचीत की है और वे सहयोग के लिए राजी हुए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *