Crime Health Politics

मुंबई लॉकडाउन के उल्लंघन को लेकर पुलिस ने की मजदूर की पिटाई जिसके चलते हुई मजदूर की मौत

मुंबई लॉकडाउन के उल्लंघन को लेकर पुलिस ने की मजदूर की पिटाई जिसके चलते हुई मजदूर की मौत

साथी ने कहा-पुलिस ने की थी पिटाई…पुलिस ने कहा लगे आरोप झूठे और बेबुनियाद हैं.

मुंबई – इंद्रदेव पांडे

मुंबई के डोंगरी इलाके में शनिवार रात घर लौटने के बाद एक मजदूर की मौत हो गई. मजदूर के साथ कमरे में रहने वाले उसके साथी का आरोप है कि पुलिस ने कोरोना वायरस की वजह से जारी लॉकडाउन के उल्लंघन को लेकर उसकी पिटाई की थी. हालांकि पुलिस ने आरोपों को खारिज करते हुए कहा कि मजदूर की मौत हृदय रोग के चलते हुई.जेजे मार्ग पुलिस ने इस संबंध में आकस्मिक मौत का मामला दर्ज किया है.

पुलिस ने उसके सिर, हाथ और पीठ पर वार किया’

मृतक सगीर जमील खान के साथी का दावा है कि शनिवार रात घर लौटने के बाद खान ने उसे बताया था कि जब वह नल बाजार इलाके में ठेले पर फ्रिज देने जा रहा था तो डोंगरी में फूल वाली गली में पुलिस ने उसे पकड़ लिया और उसके सिर, हाथ तथा पीठ पर वार किया.उसके साथी ने पत्रकारों को बताया कि इसके बाद रात्रिभोज करते समय खान अचानक गिर गया. उसे अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया.

हार्ट अटैक से हुई है मौत: पुलिस

हालांकि जोन-१ के पुलिस उपायुक्त संग्राम सिंह निशानदार ने फाइट अगेंस्ट क्रिमिनल के पत्रकार को बताया कि खान की मेडिकल रिपोर्ट से पता चलता है कि उसकी मौत हृदय संबंधी रोग के कारण हुई. उसके शरीर पर अंदरूनी या बाहरी चोट के निशान नहीं थे. उन्होंने कहा, ”गली की सीसीटीवी फुटेज में वह पुलिस नाकेबंदी से अच्छी खासी दूरी से गुजरता हुआ दिखता है. पुलिस पर लगे आरोप झूठे और बेबुनियाद हैं.” अधिकारी ने कहा कि विसरा मेडिकल जांच के लिए भेजा जाएगा और शव को अंतिम संस्कार के लिए रिश्तेदारों को सौंप दिया जाएगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *