Crime

अपराध शाखा ९ की छापेमारी में एक तड़ीपार सहित ३ गिरफ्तार चला रहे थे नकली दूध बनाने कारोबार

अपराध शाखा ९ की छापेमारी में एक तड़ीपार सहित ३ गिरफ्तार चला रहे थे नकली दूध बनाने कारोबार

इंद्रदेव पांडे
मुंबई  वर्सोवा पुलिस स्टेशन के अंतर्गत आने वाले क्षेत्र में अपराध शाखा ने दूध बनाने वाले गिरोह का किया भंडाफोड़ एक तडीपार सहित ३ गिरफ्तारी

इस छापेमारी में पुलिस ने कुल ५०० लीटर मिलावटी दूध जब्त किया गया और नष्ट कर दिया गया।
मुंबई पुलिस की अपराध शाखा ने शुक्रवार को अंधेरी में एक दूध के अवैध कारोबार का भंडाफोड़ किया।

क्राइम ब्रांच की यूनिट ९ के अधिकारियों को सूचना मिली कि एक गिरोह अंधेरी के वर्सोवा लिंक रोड पर कुछ प्रमुख ब्रांडों के दूध में मिलावट कर रहा है।

क्राइम ब्रांच और महाराष्ट्र के फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (एफडीए) विभाग के कर्मियों ने शुक्रवार सुबह अंधेरी के न्यू भारत नगर में एकता सोसायटी में छापेमारी की।

अधिकारियों ने पाया कि गिरोह के सदस्यों ने अमूल, गोकुल, मदर डेयरी और आरएनक्यू जैसे कई प्रमुख बैंडों के दूध के पैकेट खरीदे थे। उन्होंने पाया कि आरोपियों ने खुले दूध के पैकेटों को काट दिया और उसमें मानव उपभोग के लिए पानी मिलाया जाता था। वे उन दूध के पैकेट को फिर से खोलेंगे और बाद में इसे स्थानीय बाजार में बेच देंगे।

इस छापेमारी में पुलिस ने नामजद अभियुक्त १) यादगिरी सत्या कांदिकटला ४८वर्ष २) श्रीनिवास वेंकटराव पाबू उर्फ गौड़ ४० वर्ष ३) सयालु रामचंद्र नोमलू ५३ वर्ष ४) लिंगस्वामी विंद्राता बुलची २९ वर्ष ५०० लीटर मिलावटी दूध के साथ आरोपी मात्रा बढ़ाने के लिए दूध के साथ अनहेल्दी पानी मिला रहे थे। सभी आरोपियों पर भारतीय दंड कानून सहित धारा २७२,२७३,४८२,४८३,४६८,४२० औऱ ५१ के खाद्य और मिलावट अधिनियम के तहत मामला दर्ज कर सभी को गिरफ्तार कर लिया गया है.
वही पुलिस ने कुल ५०० लीटर मिलावटी दूध जब्त किया गया और नष्ट कर दिया गया। चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है और शनिवार को न्यायालय में पेश जहाँ न्यायालय तीन दिन तक पुलिस की हिरासत में भेज दिया है.

वही इस कार्य में मुंबई क्राइम ब्रांच के डीसीपी क्राइम अखबर पठान के मार्गदर्शन में क्राइम ब्रांच यूनिट ९ के वरिष्ठ पुलिस निरक्षक महेश देसाई, पी आई आशा कोरके, सहायक पुलिस निरक्षक शरद धराडे, पुलिस उप निरक्षक वाल्मीक मोरे , और महेश नाइक काम को अंजाम दिया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *